क्या आप के घर में है Negative Energy

0
यह कोई भी यह कभी नहीं चाहेगा कि किसी भी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा उसके घर में प्रवेश करे, लेकिन जाने-अंजाने में हम कुछ ऐसा कर जाते हैं कि नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश घर में होने लगता है। शोधों से ज्ञात हुआ है कि पूरे विश्व में अधिकतर घरों के स्पंदन विविध कारणों से नकारात्मक होते हैं। ये नकारात्मक स्पंदन अनिष्ट शक्तियों तथा मृत पूर्वजों को आकर्षित कर घर को भूतावेशित करते हैं।
घर को आविष्ट करनेवाली अनिष्ट शक्तियां तथा मृत पूर्वज घर में रहनेवालों को निरंतर कष्ट देते रहते हैं इसलिए यह आवश्यक है कि हम आविष्ट घर के लक्षणों को पहचान सके जिससे समस्या को समाप्त करने का हम उपाय कर सकें। केवल संत तथा अति विकसित छठवीं इंद्रिय की क्षमतायुक्त व्यक्ति ही वास्तव में समझ सकते हैं कि कोर्इ घर आविष्ट है अथवा नहीं। कुछ लक्षण हैं जिनसे पता चल सकता है कि घर पर प्रेत की छाया है अथवा नहीं।
  • घर में वस्तुओं का गायब होना और पुनः मिलना, घर में अपरिचित वस्तुओं का मिलना, घर के चारों ओर अपरिचित चिन्ह उभरना, जैसे दीवार पर खरोंच के निशान, अलमारियों अथवा दीवारों पर भयानक चेहरे के निशान इत्यादि।
  • बिना किसी कारण के  विचित्र ध्वनि सुनाई देना अथवा द्वार के खुलने  बंद होने की, पीटने की, हंसने की, चलने- बोलने इत्यादि की आवाज सुनार्इ देना, तापमान में अनायास ही परिवर्तन हो जाना, अचानक ही वातावरण बहुत गर्म या ठंडा हो जाना।

  • बिना किसी कारण के बत्तियों अथवा विद्युत उपकरण का बार-बार जलना-बंद होना अथवा काम न करना, मोबार्इल का काम न करना, सात्त्विक पौधों जैसे तुलसी का मुरझा जाना।
  • कुत्ते अथवा बिल्ली का रोना अथवा अकारण भौंकना, अकारण पालतू जानवर जैसे बिल्ली का मर जाना, असामान्य घटनाएं उदाहरणार्थ कीडे़-मकोड़ों जैसे खटमल, लाल चींटियां, तिलचट्टे अथवा चूहों का अनायास आक्रमण, अचानक ही अस्पष्ट कारण के धार्मिक चिह्नों जैसे क्रॉस अथवा ॐ का घर में उभरना।
  • घर में अकारण पुनः-पुनः रोग अथवा अन्य समस्याएं जैसे आर्थिक समस्या होना, अकारण घर में लगातार मृत्यु होना, किसी की उपस्थिति अनुभव होना, कोर्इ निगरानी कर रहा है, ऐसा अनुभव होना, वास्तव में अनिष्ट शक्तियों का दिखना आदि।

You might also like More from author

Leave A Reply