गुस्सा कम करना है तो चांदी के गिलास में पीएं पानी

छोटी-छोटी बातों में तनाव लेने से हमारा पूरा दिन बर्बाद हो जाता है, ये हमारे लिए बहुत बड़ी परेशानी का कारण बन सकता है। ऐसे में हम डॉक्टर की सलाह लेते हैं लेकिन कभी-कभी डॉक्टर की सलाह भी कोई काम नहीं आती है। अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है और अगर आप वास्तु में थोड़ा भी विश्वास करते हैं तो एक बार इन वास्तु टिप्स को जरूर आजमा कर देखें। गुस्सा, तनाव का सबसे बड़ा कारण होता है। वास्तु के अनुसार माना जाता है कि अगर आप दिन में एक बार चांदी के गिलास में पानी पीते हैं तो इससे गुस्से पर आसानी से काबू पाया जा सकता है।

  • अगर आप घर में फैल रही निगेटिविटी से परेशान हैं तो घर में कुछ ऐसा करें जिससे घर सुगंधित हो उठे। इससे घर में न सिर्फ पवित्रता बनी रहेगी बल्कि घर का वातावरण भी पॉजिटिव होगा और आप तनावमुक्त महसूस करेंगे।
  • बेडरूम में अल्कोहल जैसे सामग्रियों को जगह देना तनाव को आमंत्रण देने जैसा है। ऐसा करने से आपको डरावने सपने आते हैं और आपको स्वास्थ्य की भी समस्या हो जाती है।
  • घर में पेंट करवाना हो तो कभी भी चटकीले रंगों को प्राथमिकता न दें बल्कि हल्के और सोबर कलर चुनें। चटकीले रंगों से घर में नीरसता छाती है जबकि हल्के रंगों का मतलब है घर में खुशनुमा माहौल का बनना।
  • अधिकतर लोगों के घरों में किचन में काले पत्थर लगे हुए देखने को मिलते हैं। लेकिन इन पत्थरों में कुछ चिपचिपा सामान गिरने पर पता नहीं चलता है जिससे हमें ही नुक्सान पहुंचता है। इसलिए किचन में हमेशा हल्के रंगों के पत्थर लगवाएं।

  • किचन को आग और पानी से बचाकर रखें। बस काम तक ही आग और पानी का इस्तेमाल करें। इसके अलावा रात के खाने के बाद जूठे बूर्तन भी ना रखें।
  • घर में समय-समय पर साफ सफाई न करने पर जल्दी ही जाले लग जाते हैं। ये जाले भी मानसिक तनाव पैदा करते हैं। इसलिए घर के जाले कभी पनपने ना दें और इसकी साफ सफाई करते रहें।
  • सुबह के पूजा के समय ऊनी या सूती वस्त्र का आसन बिछायें, इसके अलावा ध्यान रखें कि पूजा सुबह के समय 6 से 8 बजे के बीच ही संपन्न कर लें।
  • सोफासेट खरीदते समय रंगों का ध्यान जरूर रखें। हल्के नीले रंगों और ऐसे ही दूसरे हल्के रंग के सोफे घर में शांति लाते हैं।

You might also like More from author

Comments