- Advertisement -

प्रकृति के संकेत है शुभ-अशुभ शकुन

0

- Advertisement -

हम अपने कार्यों कि सफलता हेतु शुभ-अशुभ शकुन का विचार करते है।यह प्रकृति के संकेत माने जाते है। हम इन शुभ अशुभ शकुनों को अगर समझ सकते हैं तो कुछ हद तक अनहोनी से बचा जा सकता है। शकुन शास्त्र में पक्षी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं,परंतु उल्लू उनमें सबसे ज्यादा उपेक्षित और अग्राह्य मान लिया गया है। हम आपको बताते हैं कि शायद यह सबसे महत्वपूर्ण पक्षी है और अत्यंत सटीक संकेत भी देता है। हां, इसकी कुछ गतिविधियां अवश्य अशुभ संकेत देती हैं। देखें कि कब यह पक्षी आपके लिए शुभ सिद्ध होता है।

  • यदि आप यात्रा पर जा रहे हों और यह पक्षी बाईं ओर अपना भोजन लिए दिखाई पड़ जाए तो आपकी यात्रा सफल होगी और उससे लाभ भी होगा।
  • यदि उल्लू वृक्ष पर अपना भोजन संचय करता हुआ दिखाई देता है, अथवा बाईं ओर से उल्लू का शब्द सुनाई पड़े तो भी यात्रा सफल होगी।
  • यदि किसी परीक्षा अथवा साक्षात्कार के लिए जा रहे हैं और रास्ते में शांत भाव से अकेला बैठा उल्लू दिखाई पड़ जाए तो यह आपकी सफलता का संकेत है । यदि वह शिकार करता दिखाई पड़े तो आकस्मिक लाभ की सूचना देता है।
  • यह पक्षी बैठा हो और एकाएक उड़ जाए तो यह जीवन में किसी न किसी भारी परिवर्तन की सूचना देता है। अगर ऐसी स्थिति में इसे कोई कन्या या पुरुष देखे जिसका विवाह न हो रहा हो तो अति शीघ्र विवाह हो जाता है।
  • इस पक्षी के कुछ अशुभ फल भी हैं जैसे कि यात्रा के समय यह जमीन पर बैठा बोलता दिखाई दे तो उस यात्रा में धन हानि होती है। हवा में उड़ता आवाज कर रहा हो ,तो घर में कलह होती है। दाहिनी ओर स्थित होकर बोले तो मृत्यु तुल्य कष्ट देता है।
  • यदि उल्लू की आवाज दाईं तरफ से आए तथा तेज और कर्कश हो तो यह आगत मृत्यु तुल्य कष्ट का संकेत है ऐसे में तुरंत यात्रा स्थगित कर देनी चाहिए।
  • अगर उड़ता हुआ उल्लू किसी से टकरा जाए तो यह आने वाली विपत्ति का संकेत है। कहीं यह बैठता हुआ दिखे तो भी पूर्ण होते कार्य में रुकावट आती है या व्यापार में बाधाएं आती हैं ।
  • इस पक्षी का घर में घुसना भी अशुभ माना गया है । अगर यह रोज घर में आने लगे तो अनिष्ट के प्रभाव से बचने के लिए नवग्रह शांति का हवन करवाएं तथा छत पर काले घोड़े की नाल लगाएं।
  • उल्लू का घर में निरंतर आते रहना वैसे भी अशुभ है। जिस घर में यह निवास करने लगता है ,वहां सबकी बुद्धि दूषित हो जाती है।
  • यदि यात्रा के लिए निकलते समय उल्लू आपस में लड़ते दिखाई पड़ जाएंतो तुरंत यात्रा स्थगित कर दें । यह आपके प्राणों पर भारी संकट ला सकता है।

- Advertisement -

%d bloggers like this: