चोरीः 30 फीट की सुरंग खोद बैंक लॉकर से उड़ा लिए करोड़ों

0

नवी मुंबई के जुईनगर स्थित बैंक ऑफ बरोड़ा में शातिरों ने अंजाम दी वारदात

मुंबई। अकसर बैंक लूटने के मास्टर प्लान और कहानी हम फिल्मों में देखते और सुनते आए हैं, लेकिन नवी मुंबई के जुईनगर स्थित बैंक ऑफ बरोड़ा में चोरों ने सुरंग खोदकर करोड़ों रुपए और लॉकर में रखे सोने-चांदी के गहने चुरा लिए, जिसके बाद यहां हड़कंप मच गया। पुलिस को शुरूआती जांच में पता लगा है कि चोरों ने बगल की दुकान से करीब 30 फीट लंबी सुरंग खोदी और बैंक में दाखिल हुए, इसके बाद 225 में से 30 लॉकर तोड़ कर करोड़ों रुपए चुरा लिए। बताया जा रहा है कि बैंक के बगल की दुकान किराए पर दी गई थी। घटना के बाद से दुकान में रहने वाले लोग फरार हैं। पुलिस को शक है कि इस लूट के पीछे झारखंड की टोली का हाथ है, इस बारे में बैंक में खाताधारक रूपाली अडागले ने बताया कि वह सुबह अपना लॉकर खोलने के लिए आई थी, इसी दरमियान बैंक कर्मचारियों ने लॉकर रूम का दरवाजा खोलने की कोशिश की तो दरवाजा खुलने में अटक रहा था, इसके बाद कुछ अन्य साथियों की मदद से दरवाजा खोला गया तो वहां लूट होने के बारे में पता लगा।

बगल की दुकान में खुला सुरंग का एक छोर

घटना की सूचना पुलिस को दी गई। जब पुलिस ने सुरंग के अंदर जाकर देखा तो उसका दूसरा छोर बगल की एक दुकान में खुला था। बताया जा रहा है कि बैंक ‘भक्ति रेसिडेंसी’ नाम की इमारत में है। इस इमारत के ताल में दुकानें, एटीएम और बैंक है। तीस फीट की दूरी पर वह दुकान है, जिसमें से सुरंग खोदी गई थी। बताया जा रहा है कि दुकान शरद कोठावले की है। उन्होंने गेना प्रसाद नाम के शख्स को इसे किराए पर दिया था। जांच में पता लगा कि दुकान में पिछले पांच माह से चोर खुदाई कर रहे थे, सुरंग धंसे नहीं इसके लिए चोरों ने बल्लियां और प्लाई लगाईं थी। इस बारे में मुंबई पुलिस के सुधाकर पठारे ने बताया कि सुरंग खोदकर लूट करने वाला गिरोह झारखंड का हो सकता है, इस इलाके में गिरोह के सक्रिय होने के इनपुट भी मिले थे। पुलिस को जांच में कई सबूत मिले हैं, जिससे आरोपियों तक आसानी से पहुंचा जा सकता है।

You might also like More from author

Leave A Reply