Advertisements

मुस्लिम युवकों को निकाहनामे में लिखना होगा, मैं तीन तलाक नहीं दूंगा

- Advertisement -

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड ने निकाहनामा में बदलाव की शुरू की तैयारी

नई दिल्ली। बेशक राज्यसभा में पीएम मोदी तीन तलाक बिल को पास न करवा पाएं हो, लेकिन उनकी इस पहल का असर हुआ है।
तीन तलाक कानून का विरोध करने वाला ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड ने निकाहनामा में बदलाव की तैयारी शुरू कर दी है। मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने तीन तलाक (एक बार में तीन तलाक) रोकने के लिए ये कदम उठाया है, इसके तहत एक मॉडल निकाहनामा लाया जा रहा है, जिसमें निकाह के दौरान एक बार में तीन तलाक न देने की भी शर्त होगी।

बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना खलीलुर्रहमान नोमानी ने बताया कि एक मॉडल निकाहनामा लाया जा रहा है। नोमानी ने बताया, ‘इस मॉडल निकाहनामे में एक कॉलम और जोड़ा जाएगा। इस कॉलम में लिखा होगा कि मैं तीन तलाक नहीं दूंगा। निकाह के दौरान ही इस कॉलम को टिक किया जाएगा और निकाहनामा पर दूल्हे के दस्तखत से इसकी पुष्टि कराई जाएगी। पर्सनल लॉ बोर्ड के मुताबिक, एक बार इस कॉलम पर टिक होने के बाद पुरुष अपनी बीवी को तीन तलाक नहीं दे पाएगा। यानी एक बार में तीन तलाक बोलकर कोई भी पुरुष अपनी बीवी को तलाक देने का हकदार नहीं होगा और अगर वो ऐसा करता है तो तलाक नहीं माना जाएगा।

यह भी पढ़ें…घरेलू हिंसा से तंग आकर विवाहिता ने लगाया फंदा; पति, सास व जेठ के खिलाफ Case

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: