- Advertisement -

अनिल शर्मा बोले, बिजली उत्पादन में Man power को कम करना प्राथमिकता

0

- Advertisement -

शिमला। प्रदेश में लगने वाले बिजली कट को रोकना सरकार की प्राथमिकता में है। इसके साथ बिजली उत्पादन में बढ़ रहे लेबर कोस्ट को कम करना भी एक मुख्य उदेश्य रहेगा। शिमला में पत्रकारों से अनौपचाकि बातचीत में ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने कहा कि मैन पावर को कम करना उनकी प्राथमिकता होगी। पंजाब के साथ भाखड़ा में हिमाचल का जो 2900 करोड़ शेयर है, उसे भी हासिल करना है। कैबिनेट में इस मसले को उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि पंजाब ऐसे तो पैसा देगा नही, उसके बदले नई व्यवस्था पर विचार किया जाएगा। पंजाब को दो टूक कहा जाएगा कि हिमाचल से बिजली ले या फिर कोई और रास्ता निकाला जाएगा।कैबिनेट मंत्री अनिल शर्मा ने बताया कि ऊर्जा विभाग हिमाचल की आर्थिकी का अहम स्रोत है। 11 फ़ीसदी पॉवर जनरेशन बड़ा है। हिमाचल में बिजली उत्पादन बढ़ रहा है, जबकि मांग घट रही है। नतीज़तन हिमाचल को कम फ़ायदा बिजली उत्पादन का हो रहा है। इसके अलावा छोटी बिजली परियोजनाओं में कम लोग पैसा लगा रहे है, क्योंकि पर्यावरण विभाग से क्लीयरेंस नहीं मिल पाती है। हिमाचल प्रदेश में 26000 मेगावॉट बिजली उत्पादन की क्षमता है, जबकि 8000 पर काम जारी है। हिमाचल में सरप्लस बिजली है। बाबजूद उसके हिमाचल में बिजली कट लगते है जिसको रोकना प्राथमिकता उनकी रहेगी।

- Advertisement -

Leave A Reply