Advertisements

तैयारीः भानुपली-बिलासपुर-लेह रेललाइन पर खर्च होंगे 50 हजार करोड़

- Advertisement -

सांसद रामस्वरूप शर्मा बोले, 2020 तक पूरी होगी भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया

मंडी। सुरक्षा की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण मानी जाने वाली भानुपली-बिलासपुर-लेह रेललाइन के निर्माण पर 50 हजार करोड़ की राशि खर्च की जाएगी। इस रेललाइन के लिए निर्माण के लिए भारत सरकार के रक्षा, वित्त और रेल मंत्रालय मिलकर काम कर रहे हैं। यह जानकारी मंडी संसदीय क्षेत्र के सांसद रामस्वरूप शर्मा ने दी। रामस्वरूप शर्मा ने बताया कि इस रेललाइन के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और 2020 तक यह प्रक्रिया पूरी करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि चाइना ने लेह तक अपनी रेल सेवाएं पहुंचा दी हैं, लेकिन हम इसमें अभी पीछे हैं। उन्होंने कहा कि इस कार्य को जल्द पूरा करने की दिशा में भारत सरकार प्रयासरत है।

यह भी पढ़ें…जयराम ठाकुर ने सुबह-सवेरे लगाई Kangra की दौड़, संघ कार्यालय पहुंचे; बैठक की

रामस्वरूप शर्मा ने मंडी संसदीय क्षेत्र की 17 में से 13 सीटों पर कमल खिलाने के लिए सभी मतदाताओं का आभार भी जताया। साथ ही उन्होंने अपने घर में बीजेपी को मिली हार पर चिंता भी जताई। रामस्वरूप शर्मा ने कहा कि प्रदेश में बीजेपी के कई दिग्गजों की हार हुई है और उसमें से एक सीट जोगिंद्रनगर विधानसभा क्षेत्र की भी है। उन्होंने कहा कि यहां की हार को लेकर संगठन समीक्षा कर रहा है। रामस्वरूप शर्मा ने कहा कि पूर्व की कांग्रेस सरकार ने केंद्र की योजनाओं को प्रदेश में सही ढंग से सिरे नहीं चढ़ाया, लेकिन अब प्रदेश में बीजेपी की सरकार बन गई है तो केंद्र की सभी योजनाओं को रफ्तार के साथ आगे बढ़ाया जाएगा। रामस्वरूप शर्मा ने कहा कि मंडी में क्लस्टर यूनिवर्सिटी जल्द खोलने की दिशा में प्रयास शुरू हो चुका है। उन्होंने बताया कि सीएम जयराम ठाकुर ने इसके लिए कैबिनेट में प्रस्ताव पारित करने की हामी भर दी है और उपरांत इसके इसपर विधानसभा में एक्ट बनाया जाएगा। केंद्र सरकार ने इसके लिए 25 करोड़ की राशि भी जारी कर दी है। मंडी के वल्लभ महाविद्यालय को ही क्लस्टर यूनिवर्सिटी के रूप में विकसित किया जाएगा।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: