Advertisements

Karnataka Election Result : पूर्ण बहुमत से कम हुई बीजेपी की सीटें

BJP is leading in Karnataka vidhansabha Election Result

0

- Advertisement -

बेंगलुरु।  सुबह से जारी उथल-पुथल के बीच बीजेपी कर्नाटक में बेशक सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी है, लेकिन वह अभी भी पूर्ण बहुमत से दूर है। रुझानों के अनुसार बीजेपी अब तक 106 सीटों पर आगे चल रही है,  यानी कर्नाटक में कांग्रेस का किला ढहा कर बीजेपी ने अपना परचम बुलंद तो किया पर पूर्ण बहुमत तक नहीं पहुंच पाई। कर्नाटक विधानसभा चुनावों की मतगणना के रुझान आते ही बीजेपी खेमे में जश्न शुरु हो गया है। वहीं बताया जा रहा है कि बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह दोपहर 3 बजे एक प्रेस कॉंफ्रेंस कर सकते हैं। इसके साथ ही येदियुरप्पा के 3 बजे दिल्ली के लिए रवाना होने की भी खबर है। जहां वे पीएम मोदी व अमित से मुलाकात करेंगे। वहीं शाम 6 बजे बजे बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक भी बुलाई गई है। इस बैठक में पीएम मोदी भी शामिल होंगे, जहां वे कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे।

  • बीजेपी 106 कांग्रेस 73 व जेडीएस 41सीटों पर आगे हैं। 

हालांकि इस बीच कांग्रेस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि वे जेडीएस से गठबंधन के लिए तैयार है। पार्टी महासचिव अशोक गहलोत ने कहा कि हमें विश्वास है कि कर्नाटक में कांग्रेस एक बार फिर सरकार बनाएगी। लेकिन सभी रास्ते यानी जेडीएस से गठबंधन के रास्ते खुले हैं। वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि जेडीएस के साथ गठबंधन के मुद्दे पर हम हाईकमान से चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि मैं गुलाम नबी आजाद और अशोक गहलोत से मिलने जा रहा हूं और हम इस पर चर्चा करेंगे।वहीं केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने रुझानों में बीजेपी को मिल रहे पूर्ण बहुमत पर कहा कि, PM मोदी के नेतृत्व और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की रणनीति ने इस जीत के लिए काम किया। लोग ऐसी सरकार से तंग आ गए थे जो कानून व्यवस्था, कृषि से जुड़ी और विकास की समस्याओं पर ध्यान नहीं दे रही थी। उन्होंने कहा कि विकास के एजेंडे पर चुनाव लड़ने वाली पार्टी को चुनने के लिए हम कर्नाटक के सभी मतदाताओं का धन्यवाद करते हैं।

बीजेपी की इस शानदार जीत के बाद दिल्ली से लेकर कर्नाटक की राजधानी बेंगलूरु तक जश्न का माहौल है। कार्यकर्ता ढोल नगाड़ों पर नाच रहे हैं और पटाखे फोड़ रहे हैं। पार्टी के कार्यकर्ता और कुछ नेता बेंगलुरू में पार्टी कार्यालय में पार्टी के झंडे लहराते हुए और ढोल की थाप पर थिरकते हुए जश्न मना रहे हैं। कर्नाटक में बीजेपी की जीत से यूपीए की सरकार देश के महज तीन राज्यों में सिमट कर रह गई है। अब  एनडीए के खाते में 21 राज्य शामिल हो गए हैं। 

भले ही चुनाव दक्षिण भारत के इस राज्य में हैं, लेकिन पूरे उत्तर भारत सहित देशभर की नज़र इन नतीजों पर टिकी हुई है। यह चुनाव BJP और कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न भी बन चुके हैं। इस विधानसभा चुनाव में एक ओर जहां सिद्धारमैया और बीएस येदियुरप्पा के बीच कुर्सी की लड़ाई है, वहीं दूसरी ओर PM नरेंद्र मोदी, BJP अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रतिष्ठा भी इससे जुड़ी हुई है। राज्य में फिलहाल कांग्रेस की सरकार है और नई सरकार के लिए जनादेश का फैसला आज की मतगणना से होना है।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: