Advertisements

विस चुनाव की थकान मिटाने के बाद Working मोड में युवा मोर्चा, लोस चुनाव को मंथन

चारों सीटें फिर जीतने को फील्ड में डटने का आह्वान

- Advertisement -

लोकिन्दर बेक्टा/ शिमला। विधानसभा चुनाव की थकान मिटाने के बाद बीजेपी की युवा इकाई भारतीय जनता युवा मोर्चा लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। राज्य में बीजेपी की सरकार बनने के बाद युवा मोर्चा अब अपने अगले लक्ष्य की ओर बढ़ गया है। युवा मोर्चा अगले छह माह के कार्यक्रमों की रूपरेखा तय करने के लिए आज युवा मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारियों की यहां बैठक हुई। इस बैठक में शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज, प्रदेश संगठन मंत्री पवन राणा, संसदीय संगठन मंत्री शिशु धर्मा, और डॉ. संजय ठाकुर भी शामिल हुए। 

इस बैठक में मुख्य रूप से लोकसभा चुनावों को लेकर चर्चा की गई। बैठक में पिछले छह माह में किए गए कार्यों की भी समीक्षा की गई और विधानसभा चुनावों में युवा मोर्चा की सक्रिय भूमिका पर चर्चा की गई। बैठक में इस पर चर्चा की गई कि विधानसभा चुनावों के दौरान वन बूथ टेन यूथ की सहभागिता कितनी प्रभावी रही। इसे आगे इसी तरह बनाए रखते हुए लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुटने पर मंथन हुआ और चारों सीटों को और ज्यादा अंतर से जीतने का संकल्प लिया गया।

बैठक में पार्टी के मिलेनियम वोटर अभियान को चलाने पर चर्चा की गई और 18 वर्ष के बने नए मतदाताओं को साथ जोड़ने पर विचार-विमर्श किया गया और इसके लिए फील्ड में सक्रिय होने को कहा गया। बैठक में रक्तदान करने वाले युवाओं की सूची बनाने पर भी चर्चा की गई और इसकी सूची बनाकर कंपाइल की जाएगी और इसका लाभ उन लोगों को होगा, जिन्हें रक्त की जरूरत होती है। बैठक में कहा गया कि नए मतदाताओं को ज्यादा से ज्यादा संख्या में युवा मोर्चा के साथ जोड़ा जाए। साथ ही नए मतदाताओं को वोटर लिस्ट में जुड़ने को प्रेरित किया जाए।

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने इस मौके पर युवा मोर्चा पदाधिकारियों को लोकसभा चुनावों के लिए अभी से जुट जाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी लोकसभा की चारों सीटों को फिर से जीतेगी और इसमें युवा मोर्चा की अहम भूमिका रहने वाली है। उनका कहना था कि बीजेपी लोकसभा चुनावों में रिपीट करेगी और इस मिशन को पूरा करने को सभी को मिलकर कार्य करना है। 

भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश के सह प्रभारी (खेल प्रकोष्ठ) ध्रुव वाधवा ने इस मौके पर कहा कि लोकसभा चुनावों की तैयारियों को लेकर आज यहां चर्चा की गई। विधानसभा चुनाव जीतने के बाद अब उनकी नजरें लोकसभा चुनावों पर टिकी है और इसके लिए रणनीति बनाई गई है और अपने अगले लक्ष्य को लेकर रणनीति बनाई गई है। 

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: