आंखों की रोशनी बढ़ाए गाजर

सर्दियों का मौसम आ गया है और इस मौसम में रंग-बिरंगी सब्जियों के सेवन का मजा ही कुछ और है। चाहे बात गाजर की ही क्यों न हो। सर्दियों में इसे खाने के अपने ही फायदे हैं। गाजर के मीठेपन को लेकर आपको कैलोरी की चिंता करने की भी जरूरत नहीं क्योंकि इसमें बहुत कम मात्रा में कैलोरी होती है। गाजर में मिनरल, विटामिन और विटामिन ‘ए’ पाया जाता है, इसलिए इसे त्वचा और आंखों के लिए अच्छा माना जाता है। गाजर का प्रयोग आप सूप बनाने, सब्जियों, हलवा और सलाद के रूप में भी कर सकते हैं गाजर न सिर्फ स्वाद में अच्छी होती है बल्कि यह आपको स्वस्थ रखने के साथ साथ आपकी आंखों की रोशनी को बढ़ाती है। गाजर का नियमित इस्तेमाल आपके बालों और त्वचा के लिए भी बहुत लाभकारी है। गाजर के जूस को अपनी नियमित आहार का हिस्सा बना लें क्योंकि यह स्वादिष्ट होने के साथ बहुत गुणकारी है।

  • carrot-hairगाजर में विटामिन ‘ए’ प्रचुर मात्रा में होता है इसलिए इसके सेवन से आंखों की रोशनी ठीक होती है। विटामिन ए की कमी आंखों से संबंधी सामान्य समस्याओं का कारण है, साथ ही इसमें बीटा-केरोटिन और पोटैशियम भी मौजूद होता है। बीटा-केरोटिन से गाजर विटामिन ‘ए’ का सबसे प्रभावकारी स्रोत बनती है।
  • गाजर का सलाद खाने से या गाजर का जूस पीने से चेहरे पर चमक आती है। गाजर रक्त की विषाक्तता कम करता है और इसके सेवन से कील-मुहांसों से भी छुटकारा मिलता है।
  • गाजर के प्रतिदिन सेवन से रक्त में शर्करा का स्तर ठीक रहता है। गाजर में मौजूद पोटेशियम, मैंगनीज और मैगनीशियम के साथ मिलकर ब्लड शुगर के स्तर को सामान्य रखता है और इस तरह से शरीर में डायबिटीज के खतरे को कम करता है।
  • गाजर में मौजूद विटामिन ‘सी’ घाव ठीक करने के साथ-साथ मसूड़ों को भी स्वस्थ रखता है।
  • गाजर में बीटा कैरोटीन प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए अच्छा होता है।
  • गाजर में विटामिन ‘के’ होता है जो कि चोट लगने पर रक्त के थक्के जमने में मदद करता है और खून का बहना रोकता है। विटामिन ‘के’ चोट ठीक करने में कारगर है। गाजर में मौजूद विटामिन ‘सी’ घाव ठीक करने के साथ साथ मसूड़ों को भी स्वस्थ रखता है।
  • carrotगाजर का जूस शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा करने के साथ-साथ शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम प्रदान करके हड्डियों को मजबूती देता है।
  • गाजर में कैंसर जैसी बीमारियों से भी लड़ने का गुण होता है। इसमें कैरोटीनॉयड नाम का एक खास तत्व होता है जिसे प्रोस्टेट, कोलोन, और स्तन कैंसर से लड़ने में बहुत ही कारगर समझा जाता है। गाजर खाने वाले लोगों में आंत का कैंसर होने की संभावना लगभग 24 प्रतिशत तक कम होती है।
  • गाजर में कैरोटीनॉयड होता है, जो हृदय रोगियों के लिए अच्छा होता है। यह माना जाता है कि गाजर का प्रतिदिन सेवन कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है।
  • गाजर के जूस में विटामिन ‘के’ होता है जो कि चोट लगने पर रक्त के थक्के जमने में मदद करता है और खून का बहना रोकता है। विटामिन ‘के’ चोट ठीक करने में कारगर है।

You might also like More from author

Comments