Advertisements

Jai Ram बोले, RSS की ओर से CM office में कोई दखल नहीं, उनकी तरफ से आते हैं सुझाव 

Opposition के रवैये से लगा कि उनके Leader केवल सुर्खियों में रहने के लिए कर रहे चर्चा 

- Advertisement -

लेखराज धरटा/ शिमला। CM Jai Ram Thakur ने कहा कि सदन में बजट पर चर्चा के दौरान हमेशा गंभीर मुद्दों को उठाया जाता है लेकिन इस बार Opposition के पास कुछ भी कहने के लिए नहीं है। सदन में Opposition के रवैये से लग रहा था कि उनके नेता केवल सुर्खियों में रहने के लिए चर्चा कर रहे हैं। ऐसा लग रहा है कि कि वो केवल विरोध जताने के लिए विरोध कर रहे  हैं। जनसभा को संबोधित करने व सदन में चर्चा करना में फर्क होता है लेकिन विपक्ष के नेता के रवैये से लग रहा था कि वो जनसभा में भाषण दे रहे हो। जयराम ने कहा कि विपक्ष बजट में कोई भी कमी नहीं तलाश पाया और न ही  उनकी तरफ से कोई सुझाव या गंभीर रिएक्शन आया, लेकिन बेवजह दिखावे के लिए चर्चा या बहस करना ठीक नहीं है। कांग्रेस सरकार द्वारा ऋण लेने के मुद्दे पर जयराम ने कहा कि हालात उन्होंने पैदा किए हैं। कर्ज विकास के लिए लेना ही पड़ता है, जिस तरह से पिछली सरकार ने कर्ज लिया वह सही नहीं था। पांच वर्ष में प्रदेश की आर्थिक व्यवस्था को तहस-नहस करके रख दिया। सीएम ने यह बात आज पत्रकारों से बातचीत में कही।
सीएम कार्यालय में  संघ के दखल के विपक्ष के आरोपों पर जयराम ने कहा कि संघ (RSS)की ओर से CM office में  कोई दखल नहीं दिया जाता बल्कि उनकी तरफ से सुझाव आते हैं और उनके सुझाव में भी देश व समाज का भला होता हैं। वे देशभक्त लोग हैं हमेशा देश व समाज की भलाई के बारे में सोचते हैं।  मानना या न मानना ये सरकार का काम है वो अपना काम करते हैं हम अपना काम करते हैं।
केंद्रीय विवि के मामले में सीएम जयराम ने कहा कि अगर इस मामले में  कोई दोषी है तो वह पूर्व कांग्रेस सरकार है। अगर कांग्रेस सरकार ने समय  पर निर्णय लिया होता तो विवि का भवन आज जमीन पर खड़ा होता। सरकार कभी यहां तो कभी वहां भवन भवन बनाने में उलझी रही और काम कुछ नहीं हुआ। जबकि इसके साथ जिन राज्यों को विवि दिए गए थे उन के भवन बनकर तैयार हो चुके हैं। सीएम ने कहा कि अब ऐसा नहीं होगा अब जल्द ही इस के बारे में निर्णय लिया जाएगा। बजट में युवाओं के लिए रोजगार के संबंध में सीएम जयराम ने कहा कि सरकारी क्षेत्र में युवाओं को नोकरियां मिलेगी। सभी को सरकारी क्षेत्र में नैकरियां मिलना संभव नहीं है। जो लोग स्वरोजगार अपनाना चाहते हैं उनके लिए भी कई यजनाओं का इस बार बजट में प्रावधान किया गया है।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: