- Advertisement -

सुरक्षा एजेंसियां Alert: मंडी दौरे के दौरान CM को दिखाए जा सकते हैं काले झंडे

शिवरात्रि महोत्सव में खलल न पड़े, इसलिए मंडी शहर के बाहर होगा प्रदर्शन

0

- Advertisement -

वी कुमार/ मंडी। यहां आ रहे सीएम जयराम ठाकुर को यहां विरोध का सामना करना पड़ सकता है। विरोध करने वाले कोई और नहीं बल्कि सीएम के गृहक्षेत्र जंजैहली में प्रदर्शन कर रहे लोग ही हो सकते हैं। सराज संघर्ष समिति ने इस बात के संकेत दिए हैं। आज सीएम जयराम ठाकुर के पुतले की शवयात्रा निकालने के बाद समिति की बैठक जंजैहली में हुई, जिसमें आगामी आंदोलन की रूपरेखा तैयार की गई।

बैठक में अधिकतर लोगों ने वीरवार को मंडी जाकर सीएम को काले झंडे दिखाने की बात कही। समिति के अध्यक्ष नरेंद्र रेड्डी ने बताया कि लोगों ने अपने स्तर पर जाकर ऐसा विरोध करने की बात जरूर कही है, लेकिन समिति की तरफ से ऐसे विरोध की कोई रूपरेखा नहीं बनाई गई है।

वहीं, जंजैहली से मंडी आ रहे लोगों ने काले झंडे दिखाने का कार्यक्रम मंडी शहर से बाहर करने का निर्णय लिया है, ताकि यहां जारी अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में कोई खलल न पड़े। हालांकि अभी तक यह तय नहीं कि यह विरोध कहां जैसे किया जाएगा। सीएम के टुअर प्रोग्राम के अनुसार उनका हेलीकॉप्टर सुंदरनगर में लैंड करेगा जहां से वह सड़क मार्ग होते हुए मंडी पहुंचेंगे। संभवतः इसी दौरान रास्ते में सीएम को काले झंडे दिखाए जा सकते हैं। इस बात की भनक सुरक्षा एजेंसियों को भी लग गई है और जिला का प्रशासन और पुलिस पुरी तरह से सक्रिय हो गई हैं। बुधवार को सीएम जयराम ठाकुर ने फोन के माध्यम से जंजैहली के लोगों को संबोधित भी किया, लेकिन लोग सीएम की बात से पूरी तरह असंतुष्ट नजर आए और विरोध को जारी रखने का ऐलान किया।

सीएम ने जंजैहली के लोगों को कोई दूसरा बड़ा संस्थान देने की पेशकश की थी, लेकिन लोगों ने इसे सिरे से खारिज करते हुए एसडीएम कार्यालय को यहीं पर रखने की मांग उठाई। वहीं, सराज के कुछ लोगों ने विरोध स्वरूप अपने बच्चों को स्कूल न भेजने का निर्णय भी लिया है। सराज संघर्ष समिति के अध्यक्ष नरेंद्र रेड्डी ने बताया कि कुछ दिनों में इस विषय को लेकर शिमला जाने का निर्णय लिया जा रहा है, ताकि वहां पर सीएम से स्पष्ट बात की जा सके। समिति अभी अपने आगामी आंदोलनों की रूपरेखा बनाने का प्रयास कर रही है।

- Advertisement -

Leave A Reply