- Advertisement -

वीरभद्र मिले law minister से, Election के बाद के कानूनी पचड़ों पर की चर्चा

0

- Advertisement -

नई दिल्ली। हिमाचल के सीएम वीरभद्र सिंह ने यहां पर कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद से मुलाकात की और चुनाव के बाद विकास कार्यों के क्रियान्वयन को लेकर पेश आ रही समस्याओं के बारे में विस्तृत चर्चा की। सीएम ने कानून मंत्री को बताया कि विस चुनाव के चलते प्रदेश में आचार संहिता लागू है, इसके कारण प्रदेश में  विकासात्मक जरूरी कार्य जो सरकार की ओर से किए जाने हैं, वे नहीं हो पा रहे हैं। 

सीएम का कहना है कि प्रदेश  में चुनावों के परिणाम 18 दिसंबर को आने हैं लिहाजा तब तक प्रदेश में जो कार्य होने हैं, वे नहीं हो पा रहे हैं।  चुनाव आयोग किसी भी काम को करने की अनुमति नहीं रहा है। वीरभद्र सिंह ने कहा कि कोई ऐसा प्रावधान हो, जिसके चलते प्रदेश में जो भी काम निवर्तमान सरकार की ओर से किए जाने है वे हो पाएं। जाहिर है कि आचार संहिता लागू होने के चलते प्रदेश में काम करवाने के लिए निर्वाचन आयोग की मंजूरी लेनी पड़ रही है। सीएम का कहना है कि चुनाव का रिजल्ट आने में लगभग 20 दिन बचे हैं, इस दौरान कई जरूरी कार्य भी हैं, जो किए जाने है। जाहिर है कि कुछ दिनों पहले परिवहन मंत्री ने भी अपने विभाग में बसों के रूटों को लेकर इस तरह की समस्या आने की बात कही थी। 

गुरुवार को होगी आय से अधिक संपत्ति मामले में सुनवाई

इससे पहले निर्वाचन आयोग से  सरकारी हेलीकॉप्टर की सेवाएं लेने की अनुमति मिलने के बाद सीएम दिल्ली पहुंचे। वीरभद्र सिंह के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में पटियाला हाउस में गुरुवार को  सुनवाई होनी है। इसके अलावा दिल्ली में 1 दिसंबर को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव का कार्यक्रम जारी होना है, जिसमें कांग्रेस शासित प्रदेशों के सीएम और अन्य वरिष्ठ पदाधिकारियों के मौजूद रहने की संभावना है। वीरभद्र भी इस कार्यक्रम का हिस्सा बन सकते हैं।  संभावना है कि सीएम वीरभद्र सिंह इस कार्यक्रम में शामिल होने के बाद शाम तक शिमला लौट आएंगे।

- Advertisement -

%d bloggers like this: