Ramdev पर लिखी किताब पर लगा बैन, बाबा ने खुद ही रोक लगाने के लिए लगाई थी याचिका

नई दिल्ली स्थानीय अदालत ने योग गुरु Baba Ramdev पर लिखी गई किताब ‘गॉडमैन टू टाइकून: दि अनटोल्ड स्टोरी ऑफ बाबा रामदेव’ पर अंतरिम रोक लगा दी है। दरअसल बाबा रामदेव ने ही खुद पर लिखी किताब पर रोक लगवाने के लिए अदालत में याचिका लगाई थी। इसपर अदालत ने किताब पर रोक लगा दी। कोर्ट का कहना है कि अगले आदेश तक पब्लिशर इस किताब को न तो प्रकाशित करेंगे और न ही बेच सकेंगे वहीं, पब्लिशर का कहना है कि उन्हें कोर्ट का आदेश 10 अगस्त को मिला है। वह इस आदेश के खिलाफ जल्द ही अदालत में अपील करेंगे।

यह भी पढ़ें : लो जी, बाबा रामदेव ने शुरू की Security company

मुंबई की पत्रकार प्रियंका पाठक नारायण ने लिखी है किताब

गौरतलब है कि Baba Ramdev की जीवनी पर लिखी गई इस किताब को मुंबई की पत्रकार प्रियंका पाठक नारायण ने लिखा है। किताब पर रोक लगाए जाने पर पत्रकार प्रियंका ने कहा कि उन्हें कोर्ट के आदेश पर यकीन नहीं हो रहा। हमें किताब पर इस तरह की रोक लगाए जाने की बिल्कुल उम्मीद नहीं थी। बाबा रामदेव पर पहले भी कई किताबें लिखी जा चुकी हैं। लेकिन उन किताबों पर कभी इस तरह की रोक नहीं लगाई गई। प्रियंका ने आगे कहा कि वो किताब पर काम करने के दौरान बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण से मिली थी। उन मुलाकातों के दौरान बाबा रामदेव काफी सहज थे।

You might also like More from author

Comments