Advertisements

BPL चयन में धांधली, Survey पर उठे सवाल; DC से की लोगों ने शिकायत

People raised voice against the Arbitrary of Panchayat representatives in Kullu

- Advertisement -

कुल्लू में पंचायत प्रतिनिधियों की मनमानी के खिलाफ लोगों ने उठाई आवाज

कुल्लू। पंचायतों में हो रहे गरीबी रेखा से नीचे रहने वालों के चयन को लेकर हो रहे Survey के विरोध में लोग खुलकर आ गए हैं। गौर रहे कि कुल्लू जिला में 204 पंचायतों में BPL परिवारों के चयन के लिए Survey किया था, जिसके बाद प्रशासन BPL की सूची तैयार कर सरकार के एजेंडे को पूरा करने का काम कर रहा है, लेकिन जिला की दर्जनों पंचायत में लोगों ने BPL के Survey पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

BPL परिवारों की अंतिम सूची जारी होने के बाद अब कई लोग प्रशासन के द्वार बीपीएल परिवार से बाहर किए जाने और कई अपात्र लोगों के BPL में शामिल करने की शिकायत लेकर पहुंच रहे हैं। जिला में दर्जनों पंचायत से DC, SDM के पास दर्जनों शिकायतें पहुंची है।  ऐसे में सवाल यह खड़ा होता है कि BPL के सर्वे में कई पंचायत प्रतिनिधियों को शामिल नहीं किया और सचिव ने अपनी मनमर्जी से सूची तैयार कर अपात्र लोगों को BPL में लगाया। वहीं लगघाटी-डुगीलग पंचायत और मणिकर्ण घाटी के भ्रैण पंचायत के प्रतिनिधिमंडल ने DC कुल्लू यूनुस से मिलकर बीपीएल सूची में हुई धांधली को लेकर उचित कार्रवाई की मांग की है, जिसके लिए DC ने कमेटी गठित कर उचित कार्रवाई का आश्वासन भी दिया है।

इससे पहले दर्जनों पंचायतों ने भी बीपीएल परिवारों के चयन को लेकर शिकायत दर्ज करवाई है। ग्राम पंचायत डुघीलग का प्रतिनिधिमंडल DC से मिला। डुघीलग पंचायत के बाशिंदों ने DC से बीपीएल परिवारों के चयन में हुई गड़बड़ियों को लेकर निष्पक्ष जांच करवाने की आग्रह किया है।

 लगघाटी की डुघीलग पंचायत के स्थानीय निवासी देवी चंद, चेत राम, अनिल, बलदेव, सुंदर सिंह, साजू राम आदि ने कहा कि पंचायत में बीपीएल के चयन पारदर्शी तरीके से नहीं किया गया है। पात्र लोगों को बीपीएल सूची से बाहर किया गया है, जबकि इसमें अपात्र लोगों को इसमें शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि मामले की उचित जांच की जाए और अपात्र लोगों को बीपीएल सूची से बाहर किया जाए।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: