Vikramaditya की सलाहः मानसिक संतुलन खो चुके Anurag करवाएं इलाज

0

शिमला। जब से अनुराग ठाकुर को सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से हटाया है, वह अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं और बौखलाहट में कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के खिलाफ अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं। यह बात प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने कही।  उन्होंने अनुराग ठाकुर को सलाह दी है कि वह किसी चिकित्सक से अपना स्वास्थ्य लाभ करवाएं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कौशल विकास भत्ते के तहत सरकार को युवाओं का सर्मथन मिल रहा है और आगे भी मिलता रहेगा।

  • बोले,  बौखलाहट में कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के खिलाफ कर रहे अनाप-शनाप बयानबाजी

प्रदेश युवा कांग्रेस ने सांसद अनुराग ठाकुर द्वारा बद्दी व बंगाणा में हिमाचल सरकार व वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ की गई बयानबाजी की कड़ी निंदा की है। युकां ने कहा है कि ऐसा लगता है कि जब से सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से अनुराग ठाकुर को बर्खास्त किया है, तब से उनका मानसिक संतुलन बिगड़ गया है।

प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने अनुराग ठाकुर की आलोचना करते हुए कहा कि वह युवा anurag-thakurविरोधी होने का प्रमाण बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकार द्वारा बेरोजगारों को दिया जा रहा कौशल विकास का प्रोत्साहन उन्हें नजर नहीं आ रहा है। प्रदेश सरकार युवाओं के कौशल विकास की पक्षधर है और उन्हें अपने पैरों पर खडे़ होने के लिए प्रोत्साहित एवं प्रशिक्षत कर रही है। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि जब से प्रदेश में कौशल विकास निगम का गठन किया है, हिमाचल सरकार ने अपने चार वर्ष के कार्यकाल में 1 लाख 28 हजार युवाओं को कौशल विकास भते से लाभान्वित किया है और पांच वर्षों में 66 हजार युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि हिमाचल प्रदेश देश का केवल ऐसा पहला राज्य है, जिसमें युवाओं के भविष्य के प्रति प्रदेश में कौशल विकास निगम का गठन किया है।

You might also like More from author

Leave A Reply