Funds दुरुपयोग पर सीधे Jail जाएंगे पंच-सरपंच

चंडीगढ़। हरियाणा के सीएम के अतिरिक्त प्रधान सचिव राकेश गुप्ता ने कहा है कि प्रदेश के गांवों के विकास के लिए दी गई सरकारी राशि का दुरुपयोग करने वाले सरपंच व पंच अब जेल जाएंगे। गुप्ता सीएम विंडो की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में गुप्ता ने सिरसा जिला के उपायुक्त को निर्देश दिए कि गांव कालुआना के भूतपूर्व सरपंच जगदेव सिंह के विरूद्ध तुरंत प्रभाव से एफआईआर दर्ज की जाए। जगदेव सिंह के विरूद्ध सीएम विंडो में शिकायत की गई थी कि उसने पंचायत की लगभग 9 लाख रुपये की राशि वर्ष 2014 से अपने पास अवैध रूप से रखी हुई है। गौरतलब है कि इसी सरपंच पर मनरेगा स्कीम की राशि के दुरुपयोग का भी आरोप है। बार-बार नोटिस दिए जाने के बावजूद भी जगदेव सिंह सरपंच ने सरकार का पैसा अभी तक वापस नहीं लौटाया। इसी तरह का एक मामला झज्जर जिले के गांव डाबोदाखुर्द के सरपंच राजबीर सिंह मलिक के खिलाफ सीएम विंडो के माध्यम से सामने आया है, जिसमें इस सरपंच पर एक करोड़ 11 लाख रुपये की राशि के दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया है। इस मामले में कार्रवाई करने में देरी के चलते मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव राकेश गुप्ता ने झज्जर जिले के सिटी मजिस्ट्रेट को निर्देश दिए कि इस मामले में 15 दिन के अंदर जांच करके रिपोर्ट प्रस्तुत करें, ताकि दोषी के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जा सके।

  • अतिरिक्त प्रधान सचिव राकेश गुप्ता ने धांधली पर जारी किए आदेश
  • मनरेगा के पैसे पर रहेगी पूरी नजरmanrega

उन्होंने पंचकूला जिले के शहजादपुर के भूतपूर्व सरपंच तथा ग्राम सचिव को पंचायत के फंड के दुरुपयोग के मामले में एफआईआर दर्ज करने के भी निर्देश दिए। इसी प्रकार, उन्होंने बीडीपीओ के बार-बार पत्र लिखने के बावजूद दोषी सरपंच के विरुद्ध एफआईआर दर्ज न करने पर समालखा के एचएचओ को सस्पेंड करने के आदेश भी दिए तथा सरपंच के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए। उन्होंने जींद के ग्राम सचिव एवं स्वच्छ भारत मिशन को आर्डिनेटर को फंडस के दुरुपयोग के मामले में एफआईआर दर्ज करने के भी आदेश दिए। गुप्ता ने कुरुक्षेत्र के थानेसर जिले के पूर्व नायब-तहसीलदार (सेवानिवृत्त) के विरूद्ध बिना अनापत्ति प्रमाणपत्र के वसीका पंजीकृत करने के दोषी ईश्वर सिंह मलिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के भी आदेश दिए।

राकेश गुप्ता ने सीएम विंडो पर आई शिकायत का निपटान करने में लापरवाही बरतने पर मेवात जिले की जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी सीमा शर्मा तथा नगरपालिका, नारनौल के सचिव को तुरंत प्रभाव से निलंबित करने के आदेश दिए । गुप्ता ने गन्नौर के खाद्य एवं आपूर्ति निरीक्षक महेंद्र कुमार पर नकली सिंह का बोगस राशन कार्ड बनाने के मामले में तुरंत कार्रवाई करने के निर्देश दिये। इसी प्रकारए स्वास्थ्य विभाग का एक मामला डॉ. रणदीप सिंह पूनिया के खिलाफ आया, जिसमें कहा गया है कि सबंधित डाक्टर पर लगभग 15 विभागीय शिकायतें पैंडिंग हैं, जिस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस शिकायत पर कड़़ा संज्ञान लेते हुए गुप्ता ने स्वास्थ्य विभाग के नोडल आफिसर को कहा कि इस मामले में तुरंत कार्रवाई करके रिपोर्ट प्रस्तुत करें। गुप्ता ने निर्देश दिए कि जो अधिकारी या कर्मचारी किसी केस में जांच के बाद दोषी ठहराए जा चुके हैं, उनके विरुद्ध तुरंत प्रभाव से कार्रवाई की जाए। उन्होंने गुड़गांव जिला के उपायुक्त को भी निर्देश दिए कि सबंधित जिला राजस्व अधिकारी व अन्य कर्मचारियों के विरुद्ध भी करवाई की जाए।

You might also like More from author

Comments