- Advertisement -

Budget अनुमान चर्चा के दौरान CM Jai Ram -हर्षवर्धन चौहान आमने-सामने

himachal vidhansabha Budget session CM Jai Ram Thakur discussions on budget estimates

0

- Advertisement -

शिमला। बजट अनुमान पर चर्चा के दौरान CM Jai Ram Thakur और कांग्रेस विधायक हर्षवर्धन चौहान आमने सामने आ गए। कांग्रेस के वरिष्ठ सदस्य हर्षवर्धन चौहान ने आरोप लगाया कि देश की मोदी सरकार द्वारा लगाई गई नोटबंदी और GST के कारण देश ही नहीं, राज्यों की Growth rate गिरी है। उन्होंने कहा कि इसके लिए पूरी तरह से मोदी सरकार जिम्मेदार है।  विधानसभा में बजट अनुमानों पर चल रही चर्चा में हिस्सा लेते हुए उन्होंने कहा कि यह बजट खोखला, दिशाहीन है और इसमें जनता के लिए कुछ भी विशेष नहीं है।
इस दौरान सीएम ने दो बार हस्तक्षेप किया और CM Jai Ram Thakur  और हर्षवर्धन चौहान आमने-सामने आए। चौहान ने कहा कि मौजूदा सरकार ने Budget में आंकड़ों को तोड़ मरोड़ कर पेश किया है। उन्होंने कहा कि पू्र्व सीएम वीरभद्र सिंह ने 14वें वित्तायोग के समक्ष राज्य का पक्ष मजबूती से रखा और फिर जाकर इसमें भारी बढ़ोतरी मिली। उन्होंने कहा कि जब से पीएम मोदी सत्तासीन हुए हैं, हिमाचल में उन्होंने एक पैसे की भी घोषणा नहीं की, जबकि अटल बिहारी वाजपेयी जब भी प्रदेश में आते थे तो कुछ न कुछ घोषणा करते थे। उन्होंने कहा कि इस Budget में अटल बिहारी वाजपेयी बजट में अंत में जोड़ा गया है।

हम तो विपक्ष में हैं सवाल तो पूछेंगे

चौहान ने कहा कि आज कांग्रेस जब राज्य से चुनकर गए सांसदों से सवाल करती है तो उन्हें आपत्ति होती है और जब सरकार से पूछते हैं तो कहते हैं कि नई है। उन्होंने कहा कि वे विपक्ष में हैं और वे सवाल पूछेंगे। उन्होंने सवाल किया रेल में क्या नया हुआ है। उद्योगों में क्या नया किया गया है। उन्होंने कहा कि सीएम लगातार दिल्ली जा रहे हैं, लेकिन वे वहां से कुछ लाएं। कोई पैकेज, उद्योग और रेल को लेकर नई प्रोजेक्ट लाएं तो वे स्वागत करेंगे। हर्षवर्धन चौहान ने इस दौरान कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में ग्रोथ रेट 7.1 फीसदी थी और फिर बढ़कर 8.1 फीसदी हुई, लेकिन बाद में यह कम हुई और 2017-18 में 6.3 पर पहुंची।

कांग्रेस सदस्य जो बोले, वो उनकी सरकार की बात

इस पर CM Jai Ram Thakur ने हस्तक्षेप किया और कहा कि 2017 में किसकी सरकार थी और कहा कि उनकी सरकार तो अढ़ाई माह ही पुरानी है। इस दौरान कांग्रेस सदस्य जो कह रहे हैं वह उनकी सरकार की बात है। उन्होंने पूछा कि यह क्यों गिरी। इस पर हर्षवर्धन चौहान बोले कि यह मोदी सरकार द्वारा लाई गई नोटबंदी और जीएसटी के कारण गिरी है। उन्होंने कहा कि इससे न केवल देश में बल्कि राज्यों में भी गिरी है। इसके लिए मोदी सरकार जिम्मेदार है।
चौहान ने कहा कि सत्तापक्ष के लोग कांग्रेस को ज्यादा लोन लेने को लेकर कोस रहे हैं। इस पर सत्तापक्ष के लोग टीका-टिप्पणी कर रहे थे और फिर चौहान बोले, जो लोऩ लिया गया है वह विकास पर लगा है न कि हमारे घरों में। इस पर CM Jai Ram Thakur ने फिर हस्तक्षेप किया और कहा कि यह सत्य है कि कांग्रेस सरकार ने ज्यादा लोन लिया है। उन्होंने कहा कि अब विपक्षी सदस्य उन्हें कह रहे हैं कि लोन ले लिया है। उन्होंने भी उसी अंदाज में कहा कि वे जो लोन ले रहे हैं क्या वे अपने लिए ले रहे हैं। इस पर हर्ष फिर बोले कि कांग्रेस ने लोन विकास के लिए लिया है और आप भी लो। उनका कहना था कि कोई भी सरकार लोन के बिना नहीं चल सकती। केंद्र सरकार भी लोन लेती है और इसी से विकास होता है।

कांग्रेस सरकार थोक के व्यापारी, बीजेपी सरकार परचून की

चौहान ने कहा कि विकास के मामले में कांग्रेस सरकार थोक के व्यापारी हैं, जबकि बीजेपी सरकार परचून की। उन्होंने कहा कि आज स्थिति यह है कि सरकार पूर्व सरकार द्वारा खोले गए शिक्षण संस्थानों को बंद करने की बात कर रही है, लेकिन वे कहना चाहते हैं कि शिलाई में खुले कालेज में 900 में से 675 लड़कियां हैं और कफोटा में 225 में से 176 लड़कियां शिक्षा ग्रहण कर रही है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों में शिक्षण संस्थान खुलने से लड़कियों को घर द्वार पर शिक्षा मिल रही है। जहां तक बीजेपी की बात है, उनका इतिहास शिक्षा के निजीकरण का रहा है।

- Advertisement -

%d bloggers like this: