khattar सरकार की नाकामियां सामने लाएंगे Hooda

चंडीगढ़। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्य सरकार की कार्यप्रणाली पर निशान साधा है। उन्होंने मनोहर लाल सरकार के सवा दो साल के कार्यकाल पर सवाल खड़े किए हैं। हुड्डा ने विधायकों संग मंत्रणा के बाद ऐलान किया कि सरकार के विरुद्ध पोल खोल अभियान चलाया जाएगा। गांवों और शहरों के साथ-साथ विधानसभा के भीतर कांग्रेस विधायक सरकार की नाकामियों को उजागर करेंगे। उन्होंने पंजाब में कांग्रेस की मजबूत स्थिति का दावा किया है। साथ ही भाजपा सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में पानी के बिल वसूल करने के फैसले की कड़ी आलोचना की है। चंडीगढ़ पहुंचे हुड्डा से मंगलवार को आधा दर्जन कांग्रेस विधायकों ने मुलाकात की है। हुड्डा ने गुरुग्राम के प्रवासी हरियाणा दिवस कार्यक्रम पर सवाल उठाते हुए कहा कि पिछली बार हुई सम्मिट में 6 लाख 84 हजार करोड़ के एमओयू साइन होने का दावा किया गया था, मगर अभी तक पांच करोड़ का निवेश भी नहीं आया। प्रवासी दिवस कार्यक्रम में विदेशियों की भीड़ जुटाने के लिए सरकार ने उन्हें हवाई मार्ग का आने-जाने का किराया दिया है।

  • पूर्व cm ने दो साल के कार्यकाल पर उठाए सवालhar1

सरकारी किराए पर आने-जाने वाले उद्यमियों से हरियाणा में निवेश की क्या उम्मीद की जा सकती है। हुड्डा ने चौटाला द्वारा अंबाला के इस्माइलपुर से एसवाईएल नहर की खुदाई आरंभ करने के अभियान को राजनीतिक नौटंकी करार दिया है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने एसवाईएल निर्माण की जिम्मेदारी केंद्र पर छोड़ी है। इसलिए हरियाणा सरकार को केंद्र पर दबाव बनाना चाहिए। कांग्रेस ने जींद रैली सिर्फ इसलिए स्थगित की है, ताकि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों और केंद्र के रुख का आकलन किया जा सके। हुड्डा पंजाब में चुनाव प्रचार नहीं करने जाने के अपने फैसले पर अडिग हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब में कैप्टन अमरेंद्र सिंह पार्टी का चेहरा हैं। यदि कैप्टन हमसे वादा करें कि वे हरियाणा को उसके हिस्से का पानी देंगे तो प्रचार करने जाएंगे अन्यथा उत्तर प्रदेश में प्रचार के विकल्प खुले हैं। हुड्डा ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के बाद भी यदि इस बार हरियाणा को उसके हिस्से का पानी नहीं मिला तो फिर कभी मिलना मुश्किल होगा। उन्होंने स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू नहीं करने तथा किसानों को उनकी फसलों का उचित दाम नहीं मिलने पर चिंता जाहिर करते हुए फसल बीमा योजना के मुआवजे पर सरकार को घेरा। हुड्डा ने कहा कि अभी तक सरकार यह घोषित नहीं कर पाई कि किसानों को कितना मुआवजा मिलेगा।

Comments