Advertisements

हैरानीः Cancer के उपचार को गंभीर नहीं Hospital प्रशासन

- Advertisement -

एनएचएम निदेशालय के पत्र में हुआ खुलासा

cancer/ धर्मशाला। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) द्वारा प्रदेश के विभिन्न जिलों के अस्पतालों में कैंसर से पीड़ित मरीजों को कीमोथेरपी सहित अन्य सुविधाएं प्रदान करने के लिए, कैंसर यूनिट स्थापित करने के निर्देश दिए थे। इस योजना का उद्देश्य कैंसर पीड़ित मरीजों को उनके घरों के नजदीक ही स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाना था, ताकि मरीजों को उपचार के लिए प्रदेश और प्रदेश के बाहर स्थित अन्य अस्पतालों में न जाना पड़े। प्रदेश के दो जिलों कांगड़ा और ऊना में इस महत्वपूर्ण योजना को लेकर स्वास्थ्य विभाग की इकाइयां गंभीर नहीं हैं। इसका खुलासा एनएचएम निदेशालय द्वारा इन जिलों के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को लिखे पत्र से हुआ है।

यह भी पढ़े…Doctor न आने से नवजात की मौत

रिपोर्ट मांगी, लेकिन अभी तक नहीं मिली
इस बारे में सीएमओ कांगड़ा आरएस राणा का कहना है कि उन्होंने जोनल अस्पताल धर्मशाला के चिकित्सा अधीक्षक से रिपोर्ट मांगी है जो कि अभी तक प्राप्त नहीं हुई है। जैसे ही एमएस से रिपोर्ट प्राप्त होगी उसे स्वास्थ्य विभाग को भेज दिया जाएगा। गौरतलब है कि प्रदेश के विभिन्न जिलों में कैंसर यूनिट का शुभारंभ प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री ठाकुर कौल सिंह ने 26 जनवरी को मंडी से किया था। अब तक जिला कांगड़ा में इस योजना के तहत 13 मरीजों का पंजीकरण किया गया है। जिला में इस बारे में न तो कोई शिविर लगाया गया है और न ही लोगों को जागरूक करने बारे कुछ अन्य तरह की गतिविधि की गई है।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: