Advertisements

रोहिणी नक्षत्र में सूर्य ने किया प्रवेश, शुरू हुए नौतपा तेज, रहेगी तेज गर्मी

Hotest days starts with Nautapa

- Advertisement -

शास्त्रों के अनुसार सूर्य के रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश को नौतपा कहते हैं। नौतपा वे 9 दिन कहलाते हैं जिस दौरान सूर्य पृथ्वी के सबसे नजदीक रहता है। यही कारण है कि इन नौ दिनों में भीषण और झुलसाने वाली गर्मी पड़ती है। इस बार नौतपा ज्येष्ठ शुक्ल एकादशी यानी 25 मई से शुरू हो तक 3 जून तक रहेगा। ज्योतिष गणना के अनुसार जब सूर्य रोहिणी नक्षत्र मे रहता है तो चंद्रमा नौ नक्षत्रों का भ्रमण करता है। ज्येष्ठ माह में सूर्य के वृषभ राशि के 10 अंश से 23 अंश 40 कला को नौतपा माना जाता है। इस दौरान तेज गर्मी रहने पर बारिश के अच्छे योग और कम तपन पर बारिश में कमी दर्शाती है।

आखिर क्या पड़ता है नौतपा का प्रभाव :

  • ज्योतिष शास्त्र यह मानता है कि जब नौतपा के दौरान बारिश होती है तो इसे बोलचाल की भाषा में रोहिणी का गलना कहा जाता है। 
  • नौतपा के विषय में मान्यता ऐसी भी है कि यदि इस दौरान बारिश हो जाती है तो बारिश के मौसम में वर्षा बहुत कम होती है।
  • ऐसा माना जाता है कि सूर्य की गर्मी और रोहिणी के जल तत्व के कारण मॉनसून गर्भ में आ जाता है और नौतपा ही मानसून का गर्भकाल माना जाता है।
Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: