Advertisements

दुर्भाग्य दूर होगा अगर आज पूर्णिमा पर करेंगे ये उपाय 

how to worship in Jyeshtha Purnima

- Advertisement -

इन दिनों ज्येष्ठ माह का अधिक मास चल रहा है और आज इस माह की पूर्णिमा है। इस बार यह पूर्णिमा कुछ खास है। वैसे तो तांत्रिक सिद्धियों के लिए अमावस्या या ग्रहण काल बेहतर माना जाता है पर शास्त्रों में अधिक मास की पूर्णिमा को भी सिद्धियों  के लिए बेहतर माना जाता है। अधिक मास प्रत्येक तीन साल में एक बार आता है इसलिए इस दौरान आने वाली पूर्णिमा भी खास है। यह पूर्णिमा 28 मई को सायं 8 बजकर 40 मिनट से शुरू हो कर 29  मई को सायं 7 बजकर 49 मिनट तक रहेगी। इसके बाद यह पूर्णिमा तीन साल बाद यानी 2021 में आएगी।
  • ज्योतिषियों के अनुसार अगर अधिक मास की पूर्णिमा पर कुछ खास उपाय  कर दिए जाएं तो  धन लाभ के साथ-साथ आपका दुर्भाग्य भी दूर हो सकता है।
  • जो लोग धन की कामना रखते हैं वे ऊं ह्रीं ऐं क्लीं श्री: मंत्र की पांच माला का जाप करें।  साथ ही पूर्णिमा के अगले दिन ब्राह्मण को भोजन करवाएं और उसे कुछ दान दें।

  • अगर आप की आमदनी नहीं बढ़ रही है और प्रमोशन रूका है तो और 29 मई को सात कन्याओं को घर बुलाकर उनको भोजन करवाएं। कुछ दिनों बाद काम पूरा होगा। 
  • मंगलवार सुबह तुलसी के सामने गाय के घी का दीपक जलाएं और तुलसी की परिक्रमा करें। घर में ससुख शांति बनी रहती है।
  • अधिक मास की पूर्णिमा पर भगवान विष्णु का अभिषेक केसर मिश्रित दूध से करें। ये अभिषेक यदि दक्षिणावर्ती शंख से किया जाए तो बहुत ही जल्दी शुभ फल प्राप्त हो सकते हैं।
Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: