Advertisements

बिग ब्रेकिंग- इंटक के प्रदेश अध्यक्ष बने रहेंगे बाबा हरदीप सिंह

सुक्खू के फैसले को इंटक राष्ट्रीय अध्यक्ष ने किया खारिज

- Advertisement -

शिमला। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू द्वारा प्रदेश इंटक के नए अध्यक्ष की नियुक्ति को इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. जी संजीव रेड्डी ने खारिज कर दिया है। डॉ. जी संजीव रेड्डी ने बाबा हरदीप सिंह को पत्र लिखकर उन्हें इंटक प्रदेश अध्यक्ष के पद पर बने रहने के निर्देश जारी किए हैं।रेड्डी ने एक पत्र के माध्यम से अवगत करवाया है कि 20 अगस्त 2017 को प्रदेश इंटक अध्यक्ष के लिए चुनाव में बाबा हरदीप सिंह को जीत मिली थी। इंटक संविधान के तहत प्रदेश अध्यक्ष का कार्यकाल 3 साल के लिए होता है। यानी बाबा हरदीप सिंह आगामी 2020 तक इस पद पर बने रहेंगे। हालांकि सुक्खू ने बबलू पंडित की नियुक्ति सोमवार को की थी, लेकिन मामला इंटक के केंद्रीय स्तर पर पहुंचा तो सुक्खू के फैसले पर उंगली उठ गई।

पत्र में कहा गया है कि इंटक प्रदेश अध्यक्ष की नियुक्ति करने और इसे रद्द करने की शक्तियां किसी भी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के पास नहीं है। मगर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू ने बिना किसी चुनावी प्रक्रिया के ही बबलू पंडित को इंटक का अध्यक्ष बना दिया। इससे सुक्खू की फजीहत हो गई है। मंगलवार को ही बद्दी-बद्दी-बरोटीवाला में भी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू का पुतला फूंका गया है।

 

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: