Janjehli की सड़कों पर उमड़ पड़ा सैलाब, Govt के खिलाफ नारेबाजी के बीच निकाली शव यात्रा, जलाया पुतला

एसडीएम के मार्फत संघर्ष समिति से सीएम की हुई बातचीत नहीं चढ़ी सिरे 

343

- Advertisement -

गोहर। एसडीएम ऑफिस जंजैहली से उठना गले की फांस बनता जा रहा है। जंजैहलीवासी अपने को ठगा सा महसूस कर रहे हैं इसलिए सड़कों पर उतरकर जयराम सरकार के खिलाफ हल्ला बोल रहे हैं। दर्द उनका यह भी है कि सरकार का मुखिया जयराम ठाकुर ही उनके विधायक भी हैं। अब वह अपना दुखड़ा कहां जाकर रोएं, अब कोई चारा नहीं बचा तो वह उनकी शव यात्रा निकाल रहे हैं।

इस वक्त जंजैहली का माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। लोग सड़क पर आ चुके हैं, सरकार के खिलाफ उग्र नारेबाजी कर रहे हैं, किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन की ओर से भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। जंजैहली से एक किलोमीटर पहले ओडीधार नामक स्थान पर पुलिस ने नाका लगा रखा है जहां से बसों व अन्य वाहनों को आगे जाने से रोका जा रहा है।

This slideshow requires JavaScript.

वहीं, सराज संघर्ष समिति का कहना है जब तक सरकार की ओर से थुनाग में एसडीएम कार्यालय खोलने की अधिसूचना को रद कर इसे जंजैहली में खोला नहीं जाता तब तक उनका संघर्ष जारी रहेगा। ऐसा भी बताया जा रहा है कि बढ़ते तनाव को रोकने के लिए आज सुबह सीएम जयराम ठाकुर की एसडीएम सुरेंद्र मोहन के मार्फत संघर्ष समिति के नरेंद्र रेड्डी के साथ हुई बातचीत में शव यात्रा न निकालने को लेकर बात हुई, पर रेड्डी इस बात पर अड़े रहे कि एक घंटे के भीतर जंजैहली में एसडीएम आॅफिस की अधिसूचना जारी की जाए। जब ऐसा नहीं हुआ तो लोग सड़क पर उतर आए और सीएम की शव यात्रा निकालने चल पड़े। शवयात्रा जंजैहली से कुथाह मेला ग्राउंड तक गई, वहां पहुंची भीड़ ने शवयात्रा में साथ लेकर चले पुतले को आग के हवाले किया। इस शवयात्रा में जंजैहली की लगभग 6 पंचायतों के लोगों ने भाग लिया।

- Advertisement -

Leave A Reply

%d bloggers like this: