Advertisements

Nadda की सौगातः Tanda मेडिकल कॉलेज Centre Of Excellence

- Advertisement -

 नई दिल्ली।  पूर्ण राज्यत्व दिवस से एक दिन पहले हिमाचलवासियों के लिए दिल्ली से एक अच्छी खबर आई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने हिमाचली हितों की पैरवी करते हुए देवभूमि के लोगों को यह सौगात दी है। इस विशेष अवसर पर जेपी नड्डा ने एक महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए मानसिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में राज्य में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के लिए डॉ. राजेंद्र प्रसाद गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, (टांडा) कांगड़ा में मंजूरी दे दी गई है।

  • राज्य में मानसिक स्वास्थ्य क्षेत्र में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के लिए टांडा को मंजूरी
  • पूर्ण राज्यत्व दिवस के उपलक्ष्य में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने की घोषणा
  • बोले, इस परियोजना के लिए 31.45 करोड़ रुपये किए गए हैं निर्धारित
  • हिमाचल के 47वें स्थापना दिवस के अवसर पर हिमाचलवासियों को बधाई दी

नड्डा ने जारी एक प्रेस बयान में बताया कि  इस परियोजना के लिए 31.45 करोड़ रुपये निर्धारित किए गए हैं और दिसंबर 2016 में हिमाचल प्रदेश सरकार के लिए 6 करोड़ रुपये की पहली राशि जारी की जा चुकी है।  यह सहायता राशि बुनियादी ढांचे एवं मानव संसाधन संबंधी कार्यों को योजना अवधि के अन्तर्गत सुचारू रूप से चलाने हेतु मंजूर की गई है। वहीं, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री  जेपी नड्डा ने हिमाचल प्रदेश के 47वें स्थापना दिवस के अवसर पर हिमाचलवासियों को बधाई दी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आगे आने वाले वर्षों में हिमाचल राज्य ऐसी ही प्रगति करे और विकास की नई ऊंचाइयों को छुए। नड्डा ने कहा कि हिमाचल में राज्य की भौगोलिक स्थिति अनुकूलन होते हुए भी हिमाचल के लोगों ने कठिन परिश्रम एवं शुचिता का परिचय देते हुए राज्य को गौरान्वित किया है और इसीलिए हिमाचल दूसरे राज्यों के लिए आदर्श के रूप में उभर कर आया है।    स्वास्थ्य मंत्री ने जोर देकर कहा कि 25 जनवरी,1971  को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलने के बाद राज्य और केंद्र स्तर पर बीजेपी के शासनकाल के दौरान सर्वागीण विकास हुआ है। नड्डा ने कहा कि इसका अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि हिमाचल को भी उसी श्रेणी में रखा गया है, जिसमें पूर्वोत्तर राज्य हैं  और इसमें केंद्रीय योजनाओं के अन्तर्गत हिमाचल भी 90:10 के अनुपात में केंद्रीय धन प्राप्त कर रहा है और साथ ही 14 वें वित्त आयोग में केंद्रीय करों में राज्यों की हिस्सेदारी को भी 32% से 42% बढ़ाया गया है। नड्डा ने कहा कि पिछले ढाई वर्षों में राज्य में चहुंमुखी विकास के लिए 61 नए राष्ट्रीय राजमार्गों, मौजूदा तीन राष्ट्रीय राजमार्ग को चार-लेन, एम्स और आईआईएम जैसे संस्थानों की स्थापना की गई है।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: