Advertisements

Jawali सिद्धाथा सिंचाई योजना में अनियमितताओं की होगी जांच, Jai Ram ने दिए आदेश

आईपीएच अधिकारियों को मौके पर जाने और जल्द रिपोर्ट देने के भी जारी किए फरमान

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर ने ज्वाली विधानसभा क्षेत्र के तहत पड़ती सिद्धाथा मध्यम सिंचाई योजना में अनियमितताओं की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने आईपीएच के अधिकारियों को निजी तौर पर मौके पर जाने व जल्द ही सरकार को रिपोर्ट देने के आदेश भी दिए। यह आदेश सीएम जयराम ठाकुर ने विधायक प्राथमिकता बैठक में ज्वाली के विधायक अर्जुन सिंह द्वारा इस मुद्दे को उठाने के बाद दिए। बता दें कि ज्वाली निर्वाचन सभा क्षेत्र के विधायक अर्जुन सिंह ने सिद्धाथा मध्यम सिंचाई योजना के निर्माण के दौरान की गई अनियमितताओं के बारे में शिकायत की। हालांकि यह योजना जल चैनलों के उचित वितरण के बिना पूरी हो चुकी है। सीएम ने इस संबंध में जांच करने के आदेश दिए और कहा कि विभाग को न केवल वितरण चैनलों पर बल्कि मुख्य नहर में भी रिसाव को रोकना सुनिश्चित करना चाहिए।

पठानिया का आग्रह, पंजाब से बजरी की आपूर्ति पर लगे रोक

नूरपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक राकेश पठानिया ने पड़ोसी राज्य पंजाब से बजरी की आपूर्ति को रोकने के लिए तत्काल कदम उठाने का आग्रह किया।  उन्होंने नागरिक अस्पताल नूरपुर के आपातकालीन वार्ड को गंभीर मरीजों की सुविधा के धरातल मंजिल में स्तानांतरित करने का आग्रह किया। राकेश पठानिया ने खुले बाजार में डिपो का राशन बेचने वाले कुछ नागरिक आपूर्ति डिपो धारकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की तथा सुझाव दिया कि राजनीतिक संबंध रखने वाले व्यक्तियों को नागरिक आपूर्ति डिपो न दिए जाएं। उन्होंने कहा कि पंचायत प्रधानों को भी नागरिक आपूर्ति डिपो नहीं दिए जाने चाहिए।    इंदौरा की विधायक रीता देवी ने सड़कों की दयनीय हालत तथा छौंच खड्ड के तटीकरण जो बरसात के दौरान कुछ पंचायतों के कहर पैदा करती है, के बारे में शिकायत की।

देहरा के विधायक ने स्नेक पार्क की स्थापना करने की वकालत की

देहरा के विधायक होशियार सिंह ने उनके विधानसभा क्षेत्र में ‘स्नेक पार्क की स्थापना करने की वकालत की। उन्होंने कहा कि उनका निर्वाचन सभा क्षेत्र नदियां और नालों से घिरा होने के कारण यहां बहुत अधिक सांप हैं। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में ‘एंटी-वेनम प्लांट स्थापित किया जा सकता है, जो ‘एंटी-वेनम’ बेचकर राज्य में राजस्व अर्जित करने के लिए मदद करेगा। उन्होंने उनके विधानसभा क्षेत्र में नदियों के किनारे सफारी क्षेत्र की स्थापना का सुझाव दिया, जो सैलानियों के लिए अतिरिक्त आकर्षण होगा। उन्होंने देहरा में नालों के तटीकरण तथा सड़कां व जलापूर्ति योजनाओं में सुधार करने के लिए भी आग्रह किया।

धवाला ने राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत खाली इमारत का उठाया मुद्दा 

ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र के विधायक रमेश चंद धवाला ने श्री ज्वालामुखी माता मंदिर न्यास की भूमि को स्वास्थ्य तथा अन्य विभागों के लिए हस्तांतरण का मुद्दा उठाया। उन्होंने दावा किया कि लगभग 17 कनाल मंदिर न्यास भूमि जिसका हस्तांतरण नहीं किया जा सकता, को पिछली सरकार ने अस्पताल के नाम पर हस्तांतरित कर दिया था। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत एक बड़ी इमारत खाली पड़ी है, जबकि अस्पताल मातृ-छाया में सरांय में चलाया जा रहा है। सीएम ने डीसी कांगड़ा से इस मामले पर तत्काल रिपोर्ट मांगी तथा जल्द से जल्द सीएम कार्यालय में रिपोर्ट करने को कहा। इसके अतिरिक्त उन्होंने खैर के पेड़ों के कटान के मामले को भी उठाया।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: