Advertisements

एनएच 21 खुला , खतरा बरकरार

- Advertisement -

मंडी। बिंद्रावणी के पास छह घंटे तक बाधित रहा मनाली – चंडीगढ़ नेशनल हाई वे- 21 बहाल हो गया है। ताजा जानकारी के अनुसार मार्ग को पूरी तरह से बहाल कर दिया गया है, लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। बताया जा रहा है कि पहाड़ी से रुक-रुक कर मलबा नीचे आ रहा है। mandiपुलिस ने मौके पर जवानों की तैनाती कर दी है जो वाहनों की आवाजाही को सुचारू रूप से चला रहे हैं। गौर रहे कि बीती रात एनएच 21 पर बिंद्रावणी के पास पहाड़ी से भारी मात्रा में मलबा आ गया. जिसके चलते एनएच 21 बाधित हो गया। देर रात को ही इसे बहाल कर दिया गया, लेकिन आज सुबह ठीक उसी स्थान पर फिर से भू-स्ख्लन हुआ और एनएच 21 करीब 6 घंटों तक बंद रहा। इस कारण यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा और सारा ट्रैफिक वाया कटौला डायवर्ट किया गया। सुबह जब पहाड़ी से मलबा गिरा तो इसकी चपेट में एचआरटीसी की एक बस भी आ गई। बस के कुछ हिस्से पर मलबा गिरा और बस में बैठे दो लोगों को मामूली चोटें आई, जिन्हें पंडोह में प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया। वहीं एसडीएम सदर डॉ मदन कुमार का कहना है कि अभी भी पहाड़ी से पत्थर गिरने का खतरा बना हुआ है। उन्होंने बताया कि मौके पर पुलिस जवानों को तैनात किया गया है और उनकी देखरेख में वाहनों की आवाजाही सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने पर्यटकों से आग्रह किया है वह भी पूरी सावधानी के साथ इस स्थान को पार करें। बता दें कि पहाड़ी पर काफी पानी है और इस कारण यहां की मिट्टी ढीली हो गई है और यही वजह है कि यहां पर लगातार भू-स्ख्लन हो रहा है। अभी एनएच 21 को बहाल कर दिया गया है।

Advertisements

- Advertisement -

1 Comment
  1. Rajesh Sharma says

    अब तो सफर भी सुरक्षित नहीं रहा…

%d bloggers like this: