Advertisements

दरकी पहाड़ी, ठियोग-हाटकोटी मार्ग हुआ बंद, यातायात बहाली का काम युद्धस्तर पर

0

- Advertisement -

शिमला। लगातार हो रही बारिश से प्रदेश को भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है। प्रदेश में जगह-जगह भूस्खलन हो रहा है, जिससे मार्ग अवरुद्ध हो रहे हैं। शुक्रवार को भी  ठियोग- हाटकोटी मार्ग पर जुब्बल के निकट दोची के पास पहाड़ी दरकने से एक बड़ी चट्टान सड़क पर आ गिरी है, जिस कारण यह मार्ग यातायात के लिए पूरी तरह बंद हो गया है। हालांकि चट्टान को काटने का काम शुरू हो चुका है और उम्मीद जताई जा रही है कि दोपहर तक सड़क बहालहो जाए। वहीं ट्रैफिक को वाया मंढोल भेजा जा रहा है।

यातायात बहाली का कार्य युद्धस्तर पर

उधर डीसी शिमला रोहन चंद ठाकुर का कहना है कि हाटकोटी खड़ापत्थर सड़क पर दोची के समीप भू-स्खलन से प्रभावित सड़क मार्ग को यातायात के लिए खोलने का कार्य  युद्धस्तर पर जारी है। उन्होंने बताया कि एसडीएम रोहड़ू घनश्याम शर्मा मौके पर उपस्थित हैं तथा यातायात को सुचारू बनाने के लिए किए जा रहे कार्य का निरीक्षण कर रहे हैं। प्रशासन का यह प्रयास है कि बाधित सड़क को यातायात के लिए अतिशीघ्र खोला जाए तथा परिवहन व्यवस्था को सुचारू किया जाए। उन्होंने बताया कि ट्रैफिक को वैकल्पिक तौर पर पड़सारी खड़ापत्थर मार्ग से व्यवस्थित किया जा रहा है।

बता दें कि सड़क पर गुरूवार रात से ही मलबा गिरने शुरू हो गया था और लोगों को चेतावनी दी गई थी कि इस सड़क पर सावधानी बरतें। अभी भी प्रशासन ने लोगों को चेतावनी दी है कि इस सड़क पर सावधान ही रहें क्योंकि  यहां भारी भूस्खलन का खतरा है। सड़क बंद होने से दोनों तरफवाहनों की कतारें लगी हुई है। 

गौर हो कि इस समय सेब सीजन है और सड़क बंद होने से बागवानों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पहले ही छोटे मार्ग बंद होने से बागवानों को सेब ढुलाई के अतिरिक्त पैसे अदा करने पड़ रहे हैं और अब मुख्य मार्ग पर भूस्खलन होने के कारण सड़क रूक गई है, इससे बागवानों पर दोहरी मार पड़ रही है।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: