- Advertisement -

दुल्हन करती रही इंतजार, दहेज के लोभियों ने शादी से कर दिया इनकार

शादी के दिन लड़के वालों ने कर दी महंगी सौगात की डिमांड

0

- Advertisement -

सिरसा। चाहे हम दहेज प्रथा के खिलाफ जितने स्लोगन बना लें या नारे लगा लें लेकिन दहेज के लोभियों को शायद कभी समझ नहीं आएगी। हरियाणा में दहेज प्रथा के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला सिरसा का है जहां एक दुल्हन बारात का इंतजार करती रही लेकिन बारात नहीं आई। रोके से शादी की तारीख के बीच लड़के वालों का मन ऐसा बदला कि शादी के दिन न बारात आई न दूल्हा।

पीड़िता दुल्हन और उसके पिता ने सिटी थाना में शिकायत देते हुए कहा कि सिरसा के एक पैलेस में मीरपुर निवासी लड़के के साथ उनकी बेटी की शादी होनी थी। शादी से पहले शहर के गुरुद्वारा साहिब में दोनों के फेरे होने थे। दुल्हन पक्ष के लोग गुरुद्वारा में लड़की को शादी के जोड़े में लेकर बारात का इंतजार कर रहे थे। दोपहर तक जब बारात नहीं आई तो दुल्हन के पिता ने दूल्हा पक्ष को फोन किया। वहां से रिश्ता करवाने वाले बिचौलिए ने बताया दूल्हा पक्ष की मांग है कि शादी में जितना भी खर्च है वह लड़की पक्ष वाले वहन करें या फिर उन्हें शादी में कोई बड़ी और महंगी सौगात दें।

यह शब्द सुनकर दुल्हन के पिता के पांव तले से जमीन खिसक गई। उसने बेटी और अपनी इज्जत की दुहाई देते हुए दूल्हा पक्ष से बारात लेकर आने की गुहार लगाई, मगर दूल्हा पक्ष के लोगों ने बारात लाने से साफ इनकार कर दिया। इसके बाद दुल्हन और उसके परिजन गुरुद्वारा से सिटी थाना पहुंचे और न्याय की गुहार लगाई। इस संबंध में महिला थाना सुनीता ने बताया कि दुल्हन और उसका परिवार थाने में शिकायत लेकर आया है। उधर, दूल्हा पक्ष को पुलिस ने तलब कर लिया है। दोनों पक्षों से बातचीत करने के बाद ही अगली कार्रवाई की जाएगी।

- Advertisement -

%d bloggers like this: