Inside News : BJP के Parliamentary Plan में धवाला Kangra से सशक्त Candidate

कोर कमेटी की बैठक में मंडी सीट को लेकर हुआ गहन मंथन

884

- Advertisement -

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी किसी भी सूरत में वर्ष 2019 में होने वाले चुनावों में दोबारा से सत्ता हासिल करने के लिए अभी से गेम बनाने के लिए प्रदेशों को संगठन के जरिए निर्देशित कर चुके हैं। इसी कड़ी में संसदीय भागीदारी में चार सीटों वाले छोटे से पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश पर भी नजरें है, चूंकि वहां ताजा-ताजा सरकार बनी है साथ ही सीएम की कुर्सी पर भी नया फेस है, ऐसे में चुनौतियां भी हो सकती हैं।

मोदी नहीं चाहते कि चार सीटों पर भी किसी तरह कमजोर दिखें, इसलिए अभी से एक-एक सीट पर गेम बन रही है। दो रोज पहले हिमाचल बीजेपी कोर कमेटी की दिल्ली में हुई बैठक में मंडी संसदीय सीट को लेकर गहन मंथन हुआ। इस सीट को लेकर कई विचार सामने आए हैं, उनमे से एक विचार यह भी है कि क्या यहां चेहरा बदलना चाहिए।

Meetingचूंकि,पिछले संसदीय चुनाव में मोदी लहर थी, संभवतः इस मर्तबा यह लहर कुछ धीमी हो। ऐसे में पार्टी कोई रिस्क नहीं लेना चाहती, मंडी को लेकर पार्टी युवा फेस पर भी विचार कर सकती है। हालांकि, यह फाइनल नहीं है पर पार्टी इस लाइन पर विचार करने निकल पड़ी है। इसी तरह कांगड़ा-चंबा संसदीय सीट पर वर्तमान में पार्टी सांसद शांता  कुमार पिछली मर्तबा ही भविष्य में चुनाव लड़ने से मना कर चुके हैं। ऐसे में इस मर्तबा पार्टी यहां से ओबीसी पर दांव खेलना चाहती है, इसके लिए पार्टी ने पहला मन ज्वालामुखी से विधायक रमेश धवाला पर बनाया है।

अगर ऐसा होता है तो धवाला को जयराम मंत्रिमंडल में जगह ना मिलने के बाद से उपज रहे रोष को भी ठंडा किया जा सकता है। वहीं, धवाला,शांता कुमार के करीबी लोगों में शामिल हैं, शांता भी चाहते हैं कि धवाला को संसद में भेज उनका कद बढ़ाया जाए। धवाला को पार्टी कांगडा-चंबा में शांता के बाद सशक्त उम्मीदवार के तौर पर देख रही है। अब यह कसरत चल पडी है,पार्टी से जुडे बेहद पुख्ता सूत्र बताते हैं कि शिमला व हमीरपुर में अभी पार्टी ज्यादा छेडछाड नहीं करना चाहती या फिर इस पर अगली बैठक में कुछ प्लान सामने आएगा।

- Advertisement -

Leave A Reply

%d bloggers like this: