- Advertisement -

कोटखाई छात्रा Murder Case: गुम्मा बाजार बंद, सड़कों पर उतरे लोग

0

- Advertisement -

पुलिस की कार्रवाई से नाखुश लोगों ने दस दिन भीतर आरोपियों को पकड़ने की बात कही

शिमला। कोटखाई के महासू में छात्रा की दुराचार के बाद की गई हत्या से लोगों में भारी आक्रोश है। लोगों में गुस्सा इस बात को लेकर भी है कि अभी तक इस मामले में पुलिस किसी भी आरोपी को नहीं पकड़ पाई है। उधर, शनिवार को गुम्मा बाजार में व्यापारियों और स्थानीय लोगों ने बंद की कॉल भी दी।  इस दौरान लोगों ने छात्रा की मौत पर दो मिनट का मौन भी रखा। व्यापार मंडल गुम्मा की अगुवाई में वहां विरोध प्रदर्शन किया गया। 

इसमें स्थानीय लोगों के साथ-साथ बच्चों और महिलाओं ने भी हिस्सा लिया। प्रदर्शन के दौरान स्थानीय लोगों में पुलिस द्वारा अभी तक कोई कार्रवाई न किए जाने के कारण रोष था। लोगों ने पुलिस से आरोपियों को जल्द पकड़ने की मांग की। लोगों में मांग की कि इस घटना के दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। इसके साथ-साथ उन्होंने प्रशासन और पुलिस को 10 दिन का अल्टीमेटम दिया और कहा कि यदि 10 दिन के भीतर आरोपियों को नहीं पकड़ा गया तो स्थानीय लोग चक्का जाम करेंगे। गौर हो कि यह छात्रा पांच दिन पहले गायब हुई थी और दो तीन दिन पहले इसका शव जंगल में मिला था।

एसपी-डीएसपी खुद स्पॉट पर पहुंचे

इस घटना को बीते पांच दिन हो चुके हैं और पुलिस के हाथ खाली है। हालांकि पुलिस ने आरोपियों की तलाश को अपना जाल बिछा दिया है और छानबीन तेज कर दी है, लेकिन फिलवक्त आरोपियों की कोई पहचान नहीं हो पाई है।

 उधर, डीएसपी ठियोग दलबल के साथ महासू गांव में डेरा जमाए हुए हैं। वहां स्थानीय लोगों से पूछताछ भी की जा रही है। इस बीच, एसपी शिमला डीडब्ल्यू नेगी खुद घटना स्थल पर पहुंचे हैं और वहां हालात का जायजा और फीड बैक लिया है।

 

 

- Advertisement -

%d bloggers like this: