पीपल : जड़ों का पेस्ट घटाए चेहरे की झुर्रियां

पीपल का पेड़ वैसे तो धार्मिक महत्व रखता है, परंतु स्वास्थ्य के लिए भी यह अत्यंत महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह भरपूर ऑक्सीजन प्रदान करता है। इसके साथ-साथ पीपल की और भी कई विशेषताएं हम आपको बताने जा रहे हैं …

  • पीपल की जड़ों को काटकर ताजे पानी में भिगो कर पीस लें। यह पेस्ट चेहरे पर लगाने से झुर्रियां कम होंगी।
  • पीपल की 10 ग्राम छाल, कत्था और 2 ग्राम काली मिर्च पीसकर पाउडर बना लें। इससे मंजन करने से दांतों की सड़न, बदबू और मसूड़ों की तकलीफ में लाभ होता है।
  • पीपल की छाल के अंदर का भाग निकाल कर सुखा लें। इसे महीन पीस कर चूर्ण बना लें। यह चूर्ण दमा के रोगियों के लिए लाभ दायक है। सुबह-शाम एक चम्मच सेवन करें।
  • coldपीपल पित्तनाशक होता है। कब्ज होने या गैस होने पर पीपल के ताजे पत्तों के रस को रोज एक चम्मच सुबह लेने से परेशानी दूर होगी।
  • पीपल की पत्तियों को तोड़ने से जो दूध निकलता है, उसे फटी एड़ियों पर लगाएं, आराम मिलेगा।
  • पीपल के ताजे पत्तों को पीसकर गर्म कर लें हल्का गर्म लेप घाव पर लगाने से जल्दी ही घाव भर जाता है।
  • पीपल के कोमल पत्तों को छाया में सुखाकर महीन पीस लें। आधा लीटर पानी में एक चम्मच चूर्ण डालकर काढ़ा बनाएं पिसी मिश्री डालकर गुनगुना कर पीने से जुकाम से राहत मिलती है।
  • पीपल के चार-पांच कोमल पत्तों को चबा कर खाने और छाल का काढ़ा बनाकर आधा कप पीते रहने से दाद, खाज, खुजली से निजात मिलती है।

Comments