Browsing Category

साहित्य

literature-and-culture-news

एक जीवी, एक रत्नी, एक सपना

पालक एक आने गठ्ठी, टमाटर छह आने रत्तल और हरी मिर्चें एक आने की ढेरी "पता नहीं तरकारी बेचने वाली स्त्री का मुख कैसा…

लाल हवेली

ताहिरा ने पास के बर्थ पर सोए अपने पति को देखा और एक लंबी सांस खींचकर करवट बदल ली। कंबल से ढकी रहमान अली की ऊंची…

दहलीज़

पिछली रात रूनी को लगा कि इतने बरसों का कोई पुराना सपना धीमे कदमों से उसके पास चला आया है। वही बंगला था, अलग कोने…

- Advertisement -

एक अच्छा दिन

यह संयोग ही था कि नया साल और जुलेखा का जन्मदिन एक साथ ही पड़ता था। अमूमन सभी दोस्तों को याद भी रहता था इसलिए हैप्पी…

मैदान

हमारी आदत सी है कि हम अक्सर ही कुछ कहीं रख कर भूल जाते हैं। कभी-कभी कुछ यादें भी पुराने खतों की तरह और एक दिन जब…

मेरे साथ चलोगी ?

टेलीविज़न पर मुंबई और दिल्ली दोनों ही शहर पानी से सराबोर होते दिखाई दे रहे थे। पानी सड़कों पर इस तरह भरा था कि किसी…

- Advertisement -

गुनगुन चिड़िया

राजू को जब बार-बार मां ने कहा कि वह चिड़ियों के लिए बारजे पर दाना पानी रख दिया करे, तो उसने इसे अपना नियम बना लिया।…

एक हवा महकी सी

फिर साढ़े सात बजे हैं, अचानक ही अनवर की नज़र आसमान पर चली गयी है। ठीक इसी वक्त रोज एक हवाई जहाज उसकी छत से हो कर…

एक रात के साथी

अजीब सी हालत में फंस गए थे सब लोग। कांगड़ा से बस चली थी, तो सिर्फ तेज बारिश थी, पर यह कोई नई बात नहीं थी। ऐसा तो रोज…

- Advertisement -

पोस्टमैन

लिफाफे के बाहर पता यों लिखा हुआ था : सोसती सिरी सरबोपमा - सिरीमान ठाकुर जसोतसिंह नेगी, गांव प्रधान - कमस्यारी गांव…