बालों में लगाएं कलौंजी, झड़ेंगे नहीं 

0
कलौंजी को निजेला सेटिवा या काला जीरा भी कहा जाता है। कलौंजी के औषधीय गुणों के कारण यह बालों और त्वचा के लिए कई तरीके से लाभदायक है। कलौंजी केवल औषधीय गुणों के कारण ही नहीं जानी जाती बल्कि त्वचा और बाल विशेषज्ञों के अनुसार यह बालों के लिए भी बहुत लाभदायक है। बालों के लिए यह बेहतरीन औषधि है साथ ही दिमागी क्षमता बढ़ाने में भी कारगर है। शायद सबसे अनूठे काले बीज के तेल के लाभ में से एक बालों के झड़ने का इलाज करने की क्षमता है।
  • सिर पर 20 मिनट तक नींबू के रस से मसाज करने के बाद बालों को अच्छी तरह साफ कर लें। इसके बाद कलौंजी के तेल से बालों में अच्छी तरह मसाज करें। लगभग 15 मिनट तक बालों को इसी तरह छोड़ दें। नियमित इस्तेमाल से बाल घने और लंबे होंगे।
  • कलौंजी के तेल में ऑलिव ऑयल और मेंहदी पाउडर को मिलाकर हल्का गर्म करें। जब यह मिश्रण ठंडा हो जाए तो इसे किसी शीशी में बंद करके रख दीजिए। इस तेल से सप्ताह में दो बार मसाज करने से गंजेपन की समस्या में राहत मिलती है।

  • कलौंजी डायबिटीज से सुरक्षा देती है। साथ ही यह कील-मुंहासों की समस्याओं में भी राहत पहुंचाती है। इसके अलावा कलौंजी अस्थमा और जोड़ों के दर्द में भी फायदेमंद होता है।
  • कलौंजी में पर्याप्त मात्रा में एंटी-आक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं जो कैंसर जैसी बीमारी से सुरक्षा प्रदान करने में सहायक होते हैं।कलौंजी के तेल का इस्तेमाल बहुत सालों से घुटनों के दर्द के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

  • घुटनों में दर्द हो तो आधा चम्मच कलौंजी का तेल, सिरका 1 कप और 2 चम्ममच शहद मिलाकर के दिन में दो बार लगा कर हल्के, हाथों से मालिश करें।
  • कलौंजी का तेल, जैतून का तेल और मेहंदी पाऊडर को मिलाकर हल्का गर्म करें। उसके बाद इसे ठंड़ा होने पर बालों पर लगाएं और धो लें। हफ्ते में एक बार इसका इस्तेमाल करें। 50 ग्राम कलौंजी 1 लीटर पानी में उबाल कर बाल धोने से बाल काले, लंबे और घने होते हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply