Sukhu बोलेः Congress की विशेष रणनीति रही सफल, 18 को फिर बनाएंगे सरकार 

0
शिमला। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा है कि विधानसभा चुनावों के लिए बनाई गई पार्टी की विशेष रणनीति सफल होती दिख रही है। उन्होंने दावा किया है कि उसी के दम पर हम 18 दिसंबर को फिर से सरकार बनाएंगे। कांग्रेस के सर्वे में कांग्रेस अप्रत्याशित जीत हासिल कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि हमने इस चुनाव को युद्ध की तरह लड़ा है। चुनावों में बीजेपी के दुष्प्रचार का हमारे कार्यकर्ताओं ने मुंह तोड़ जबाव दिया है, इसके चलते ही बीजेपी के 50 प्लस की हवा निकल चुकी है। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रदेश के मतदाताओं का इस मर्तबा बीते चुनावों के मुकाबले 1 प्रतिशत ज्यादा मतदान करने पर आभार व्यक्त किया है।

व्यापारी वर्ग ने जीएसटी से दुखी होकर दिया कांग्रेस का साथ

सुक्खू ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी से हिमाचल को बड़ी उम्मीदें थी लेकिन वह उस पर खरा नहीं उतर पाए। हिमाचल के चुनाव की घोषणा गुजरात के साथ होने चाहिए थीए चुनाव दो चरण में होना चाहिए था। पहले जनजातीय क्षेत्र फिर बाकी दूसरे चरण में हो सकते थे। हालांकि उन्होंने चुनाव आयोग द्वारा कांग्रेस पार्टी को दिए गए सहयोग पर धन्यावाद भी किया। उन्होंने कहा कि चुनावों में बीजेपी ने कांग्रेस पर अनेक आरोप लगाए। बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री हिमाचल आए लेकिन हिमाचल की जनता ने चुनावों में कांग्रेस पार्टी का सहयोग दिया है। चूंकि, बीजेपी ने युवाओं को रोजगार देने की झूठी बात कही थी जिससे प्रदेश के युवाओं में भारी रोष हैए सुक्खू ने प्रदेश के व्यापारी वर्ग के भी प्रदेश सरकार से दुखी होने की बात कही। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग ने जीएसटी से दुखी होकर कांग्रेस पार्टी का साथ दिया है। रसोई गैस सिलेंडरों की कीमत में भारी बढ़ोतरी से भी प्रदेश की जनता दुखी है।

सरकार बनने पर मैं मंत्री पद की दौड़ में शामिल नहीं रहूंगाsukhwinder sukhu

सुक्खू ने कहा कि हमारे कार्यकर्ताओं ने संसाधनों की कमी रहते हुए भी जी जान लगाकर काम किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सबसे ज्यादा रैलियां सीएम वीरभद्र सिंह ने की है। चुनाव में बगावत की बात करते हुए सुक्खू ने कहा कि उम्मीदवारों के लिख कर देने के बाद ही पार्टी बागियों को पार्टी से बाहर कर रही है। पार्टी किसी भी सूरत में अनुशासनहीनता सहन नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि कितना भी बड़ा नेता क्यों ना हो अगर पार्टी को शिकायत मिलती है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। सुक्खू ने कहा कि चुनावों के बाद आए फीडबैक के आधार पर सुजानपुर सीट पर सबसे कड़ा मुकाबला है, इस सीट पर बीजेपी ने प्रेम कुमार धूमल को चुनाव मैदान में उतारा था। सुक्खू ने कहा है कि पार्टी के सर्वे के बाद यह सामने आई है कि 3.4 सीटें आजाद उम्मीदवारों को जा सकती है।  सुक्खू ने कहा कि सरकार बनने पर मैं मंत्री बनने की दौड़ में शामिल नहीं रहूंगा।

सुक्खू ने कहा कि नारों से नेतृत्व नहीं मिलताए नारे कार्यकर्तांओं की भावना होती है। उनसे नगरोटा में जीएस बाली के समर्थन में सीएम के नारे लगने को लेकर सवाल किया गया था। सुक्खू ने इस पर कहा कि नारों से नेतृत्व नहीं मिलता। उनका कहना था कि जीएस बाली के हलके में सीएम के नारे लगना वहां के कार्यकर्ताओं की भावना है।

You might also like More from author

Leave A Reply