- Advertisement -

कश्मीर भारत का है: पाक के सियासी दलों ने कबूला

चुनाव से पहले कश्मीर मुद्दे को किया मेनिफेस्टो से बाहर

0

- Advertisement -

इस्लामाबाद। आखिरकार पाकिस्तान के सियासी दलों ने चुनाव से कुछ दिनों पहले कश्मीर मुद्दे को अपने मेनिफेस्टो से बाहर कर इस बात को कबूल कर ही लिया कि कश्मीर भारत का है। बता दें कि कश्मीर मुद्दे हमेशा से दोनों देशों के मतदाताओं के ध्रुवीकरण करने का एक अचूक हथियार रहा है, जिसे तकरीबन सभी सियासी दल भुनाने के फिराक में लगे रहते हैं। जिसके कारण इस दोनों देशों के सभी दलों के घोषणापत्र में हमेशा से प्रथमिकता दी जाती रही है। ऐसे में पाकिस्तान के सियासी दलों द्वारा इस मुद्दे को अपने चुनावी मेनिफेस्टो में जगह ना देना एक चौंकाने वाली खबर है।

गौरतलब है कि 25 जुलाई को पाकिस्तान में आम चुनावों को लेकर सियासी सरगर्मी चरम पर है। तमाम राजनीतिक दल अपने मतदाताओं को लुभाने के लिए भरसक प्रयास कर रहे हैं। इस दौरान सभी राजनीतिक दलों ने अपना चुनावी मेनिफेस्टो भी जारी कर दिया है। इसमें पाकिस्तान के प्रमुख दल पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) यानी पीएमएल-एन, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) और पाकिस्तान पिपुल्स पार्टी (पीपीपी) के चुनावी मेनिफेस्टो में कश्मीर मुद्दे का कहीं भी जिक्र नहीं किया गया है। हलंकि क्रिकेटर इमरान खान की पार्टी पीटीआई के 58 पन्नों के घोषणापत्र में सिर्फ दो बार कश्मीर का जिक्र किया गया है।

- Advertisement -

%d bloggers like this: