- Advertisement -

SYL पर राजनीति गलत, Haryana के पक्ष में है फैसला

0

- Advertisement -

चंडीगढ़। हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने एसवाईएल के मुद्दे पर कहा कि इस विषय पर राजनीति नहीं होनी चाहिए और सर्वोच्च न्यायालय ने इस मुद्दे पर हरियाणा के पक्ष में फैसला सुनाया है, लेकिन फिर भी नियमित सुनवाई की जा रही है। सीएम यहां पत्रकारों द्वारा एसवाईएल के मुद्दे पर पूछे गए एक प्रश्र का उत्तर दे रहे थे।  उन्होंने कहा कि इस विषय को लेकर उनकी अगवाई में एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति से भी मिला था और राष्ट्रपति ने प्रतिनिधिमंडल की सारी बात सुनी।

  • सीएम खट्टर बोले, नियमित रूप से हो रही सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट द्वारा पंजाब द्वारा पास किया गया अधिनियम को निरस्त कर दिया था, लेकिन अब यह विषय सुप्रीम कोर्ट के पास क्रियान्वयन के लिए गया हुआ है, जिसके लिए आग्रह किया गया है कि जल्द फैसला आए और शीघ्र ही यह फैसला आने वाला है। उन्होंने कहा कि हालांकि यह मामला न्यायालय में विचाराधीन है, लेकिन हरियाणा को उसके हक का पानी मिलना चाहिए और उन्हें उम्मीद है कि हरियाणा को उसका हक मिलेगा।  प्रदेश में कानून व्यवस्था के संबंध में पूछे गए प्रश्र के उत्तर में सीएम ने कहा कि प्रदेश में सुरक्षा की स्थिति बनाकर रखी जाएगी और लोगों से अपील की गई है तथा राजनीतिक दलों से भी कहा गया कि वह किसी भी प्रकार से कानून एवं व्यवस्था को न तोड़ें। उन्होंने कहा कि हालांकि, यह मामला पंजाब सरकार से ज्यादा जुड़ा हुआ है, लेकिन फिर भी उनका मानना है कि प्रदेश में शांति बनी रहेगी।

नहर पर इनेलो की खुदाई सिर्फ नौटंकी

अंबाला। एसवाईएल के पानी को लेकर इनेलो द्वारा नहर की खुदाई को लेकर की जा रही नौटंकी केवल मात्र एक राजनीतिक ड्रामा है।नेलो की राजनीतिक जमीन सूख चुकी है, वह केवल खुदाई के नाम पर राजनीतिक ड्रामा रचकर जनता को बरगलाने का काम कर रही है। इनेलो ने सत्ता में रहते हुए कभी भी एसवाईएल के पानी को हरियाणा में लाने के लिए कोई ठोस कदम नही उठाया। इनके कारनामों से जनता भली भांति परिचित है। यह बात अंबाला शहर के विधायक असीम गोयल ने अपने आवास पर कार्यकर्ताओं से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने कहा कि एसवाईएल के पानी को लेकर इनेलो द्वारा नहर की खुदाई करने वाले स्थान पर बीजेपी इकाई के पदाधिकारी उनका दूध, जलेबी व बिकासूल के कैप्सूलों से उनका स्वागत करेंगे। उन्होंने कहा कि जब उनकी हरियाणा में सरकार थी और उस समय पंजाब में भी बादल की सरकार थी, लेकिन तब भी उन्होंने एसवाईएल नहर का पानी हरियाणा में लाने के लिए कोई कदम नहीं उठाए। उन्होंने कहा कि इनेलो केवल प्रदेश की जनता को गुमराह करके अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने पर लगी है, लेकिन जनता उनके इस बहकावे में नही आएगी और उनकी इस नौटंकी को वे जान चुके हैं।

  • अंबाला के विधायक असीम गोयल ने पार्टी की कार्रवाई पर उठाए सवाल
  • बोले, राजनीतिक ड्रामा रचकर जनता को बरगलाने की कोशिश

हरियाणा में इनेलो का कोई भी जनाधार नही रहा है और न ही उनके पास कोई अहम मुद्दा है। उन्होंने कहा कि एसवाईएल का मामला सुप्रीम कोर्ट के विचाराधीन है और हरियाणा को उसके हक का पानी अवश्य ही कानूनी तौर पर उपलब्ध होगा। विधायक ने कहा कि इनेलो का हरियाणा में कोई अस्तित्व नही है तथा उन्हें हरियाणा की जनता से कोई सरोकार नही है। इनेलो जब भी सत्ता में आईए उन्होंने हरियाणा में भ्रष्टाचार, गुंडागर्दी, भाई- भतीजावाद, क्षेत्रवाद को बढ़ावा देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में इनेलो की राजनीतिक दुकान भी बंद हो चुकी है। गोयल ने कहा कि पंजाब में बादल परिवार के साथ इनके अटूट संबंध है, इसलिए ये नहर खोदने की बात करते हैं, क्योंकि इन्हें पता है कि पजांब में इनेलो के कार्यकर्ताओं को घुसने नही देंगे और पंजाब सरकार हर हाल में कानून-व्यवस्था बनाए रखेगी।

- Advertisement -

%d bloggers like this: