Advertisements

Supreme Court में बोली Punjab Govt, तीन साल के लिए Sidhu को जाना चाहिए जेल

- Advertisement -

नई दिल्ली। रोड रेज मामले में Navjot Singh Sidhu की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। पंजाब सरकार ने Supreme Court में पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट के Sidhu को दोषी ठहराए जाने को सही करार दिया है। कहा है कि इस मामले में नवजोत सिंह Sidhu को तीन साल के लिए जेल जाना चाहिए। वहीं, याचिकाकर्ता ने कहा है कि पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट द्वारा दी गई तीन साल की सजा भी बरकरार रखनी चाहिए। अगर ऐसा होता है तो Sidhu चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित हो सकते हैं। बता दें कि आज Supreme Court में रोड रेज केस को लेकर हुई सुनवाई हुई। एससी में पंजाब सरकार के वकील ने कहा कि Navjot Singh Sidhu मामले में शामिल थे, उन्हें सजा मिलनी चाहिए। मामले की अगली सुनवाई मंगलवार को होगी।

शिकायतकर्ता ने कहा कि कहा कि अगर ये रोड रेज का मामला होता तो हिट करते और मौके से भाग जाते, लेकिन यहां पर Sidhu ने पहले उन्हें गाड़ी से निकाला और जोर का मुक्का मारा। वो थप्पड़ मार सकते थे या फिर पैरों पर मार सकते थे, लेकिन यहां उन्होंने जानबूझकर कर सिर पर मुक्का मारा व गाड़ी की चाभी भी निकाल ली।

शिकायतकर्ता ने ये भी कहा कि कोर्ट ने अपने एक फैसले में 35 साल बाद सामने आए सबूत को रिकॉर्ड पर लेने का आदेश दिया था। इस मामले में भी ऐसा किया जा सकता है क्योंकि शिकायतकर्ता को एक निजी चैनल पर Sidhu के इंटरव्यू की सीडी अभी मिली है। Sidhu की तरफ से कहा गया कि Supreme Court अभी अपील पर सुनवाई कर रहा है। लिहाजा इसे रिकॉर्ड पर नहीं रखा जा सकता है, ऐसे में अगर ये याचिका दाखिल ही करना चाहते हैं तो निचली अदालत या हाईकोर्ट में दाखिल करें।

पूर्व क्रिकेटर Navjot Singh Sidhu की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। पंजाब सरकार ने Supreme Court में पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट के Sidhu को दोषी ठहराए जाने को सही क को गैर इरादतन हत्या के मामले में पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट ने Sidhu को दोषी ठहराते हुए तीन साल की सजा सुनाई थी. जिसके खिलाफ उन्होंने Supreme Court में याचिका दाखिल किया था और कोर्ट ने उनके दोषी ठहराए जाने पर भी रोक लगा दी थी।

ये था मामला

हरियाणा और पंजाब हाईकोर्ट ने नवजोत सिंह Sidhu को 2006 में 1988 के एक हत्या के मामले में तीन साल की सजा सुनाई थी। 1988 में Navjot Singh Sidhu का गुरुनाम सिंह नाम के एक शख्स से झगड़ा हुआ था। मारपीट के बाद इस शख्स की मौत हो गई थी। हाईकोर्ट ने उन्हें तीन साल जेल की सजा सुनाई थी। Navjot Singh Sidhu कई दिन जेल में भी रहे थे। 2007 में Supreme Court ने Sidhu को राहत देते हुए हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगा दी थी।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: