Advertisements

Bindal का सवाल : 50 हजार करोड़ का कर्ज क्यों चढ़ा, बताएं CM

- Advertisement -

बोले, 6 बार रह चुके सीएम व्यक्ति से भ्रामक बयान देने की उम्मीद नहीं

Rajeev bindal: नाहन। सीएम वीरभद्र सिंह द्वारा समय-समय पर दिए गए अनर्गल बयान जनता को जनहित के मुद्दों से भटकाने के लिए दिए जा रहे सोचे समझे बयान हैं। यह आरोप मुख्य प्रवक्ता बीजेपी  डॉ. राजीव बिन्दल ने लगाएं हैं। उन्होंने कहा कि 6 बार सीएम रह चुके वीरभद्र सिंह से यह अपेक्षा नहीं है कि वे जनहित के मुद्दों से विषयानंतर करने के लिए नित नए-नए भ्रामक बयान जारी करें।

अपने आप को 6 बार का सीएम कहलाने वाले वीरभद्र को उत्तर देना चाहिए कि आज भी हिमाचल प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में पीने के पानी के लिए हाहाकार क्यों मची है। आज भी सैकड़ों गांव सड़कों से महरूम क्यों हैं। सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़क है, ऐसी दुर्दशा का उत्तर भी हिमाचल की जनता जानना चाहती है।

सरकारी स्कूलों के परिणामों ने सरकार की कार्यप्रणाली का कच्चा चिट्ठा जनता के सामने रख दिया है, शिक्षा में इतनी गिरावट क्यों है, इसका उत्तर भी शिक्षा मंत्री अर्थात सीएम को देना होगा। किसान एवं बागवान आज भी बंदरों एवं जंगली सुअरों की समस्या से क्यों जूझ रहे हैं। सीएम क्योंकि वित्त मंत्री भी हैं, उनको बताना होगा कि प्रदेश के उपर 50 हजार करोड़ का कर्ज क्यों चढ़ा है। डॉ. बिंदल ने कहा कि भ्रष्टाचार के आरोपों से बचने के लिए दूसरों पर दोषारोपण करना उसका हल नहीं है। विकास न करवा कर बेरोजगारों को रोजगार न देकर केवल कोरी घोषणाएं करना जन समस्याओं का समाधान नहीं है।

मात्र यह कह देना कि मैं खानदानी राजा हूं, इससे न तो किसी की चादर पर लगे हुए दाग धूलते हैं और न हीं बिजली, पानी, सड़क, रोजगार का समाधान होता है। डॉ. बिंदल ने कहा कि केवल धूमल व अनुराग को बुरा-भला कहकर साढ़े चार साल निकाल दिए, शेष समय भी केवल विरोधियों को कोसने में बीत जाएगा। वीरभद्र को चाहिए कि वे कांग्रेस नेताओं पर कांग्रेस के नेताओं द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों की सीबीआई से जांच करवाएं व हिमाचल की जनता के प्रति अपनी जवाबदेही सुनिश्चित करें।

MC Election : बीजेपी पार्षद 5 June को देंगे सामूहिक इस्तीफा

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: