विधानसभा सत्रः Pathania @ स्वास्थ्य सेवा ही नहीं, वित्तीय हालत भी खराब कर दी पूर्व सरकार ने

4

- Advertisement -

राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव को लेकर चर्चा, राकेश पठानिया ने कांग्रेस को जमकर घेरा
धर्मशाला। विधानसभा में आज राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा हुई। सत्तापक्ष के वरिष्ठ सदस्य राकेश पठानिया ने धन्यवाद प्रस्ताव पेश करते हुए पूर्व कांग्रेस सरकार को कई मुद्दों पर घेरा। उन्होंने राज्य की खराब स्वास्थ्य सेवाओं से लेकर खनन को लेकर पूर्व सरकार पर हमले बोले। यही नहीं उन्होंने पूर्व सरकार पर राज्य की वित्तीय स्थिति को खराब करने का भी आरोप जड़ा। पठानिया ने धन्यवाद प्रस्ताव पेश करते हुए कहा कि पूर्व सरकार ने सरकारी खजाना लूटा और खराब आर्थिक प्रबंधन से वित्तीय हालत खराब कर दी। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार में आर्थिक प्रबंधन चरमरा गया था और सरकार बिना बजट के संस्थान खोल रही थी और बिना सोचे समझे शिलान्यास हो रहे थे। आज उसके परिणाम पूर्व सरकार ने देख लिए हैं। यही नहीं पूर्व सरकार ने भारी आर्थिक संकट लाया और आज जनता पूछ रही है कि यह कैसे आया।

आईजीएमसी व टीएमसी में स्टाफ नहीं, नए कॉलेज खोल दिए

स्वास्थ्य सेवाओं का जिक्र करते हुए पठानिया ने कहा कि मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं, लेकिन जो पुराने आईजीएमसी शिमला और टांडा मेडिकल कॉलेज हैं, वहां पर स्टाफ नहीं है। आईजीएमसी में 2024 पदों में से 763 पद खाली हैं, जबकि टांडा में 1301 पदों में से करीब 500 पद खाली चल रहे हैं। उनका कहना था कि जब इन संस्थानों में ही पूरा स्टाफ नहीं है तो कैसे अन्य मेडिकल कॉलेज चलेंगे। उन्होंने कहा कि टांडा में तो हालात इतने खराब है कि वहां शौचालयों में भारी गंदगी और वहां पर एमएस और प्रिंसिपल तक दौरा नहीं करते। वहां मरीजों को दिए जाने वाले मास्क में छेद हैं। उन्होंने कहा कि कैंसर अस्पताल के लिए नवीन मशीनरी की दरकार है, लेकिन इस ओर पूर्व सरकार ने ध्यान नहीं दिया। उन्होंने अस्पतालों में निजी लैब खुलवाकर लोगों को लूटने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि एक टेस्ट के साथ कई और गैर जरूरी टेस्ट करवाए जाते हैं और इस प्रकार मरीजों से भारी लूट की जा रही है।

रात के अंधेरे में अवैध खनन, जमीन के अंदर जेनरेटर

पठानिया ने राज्य में अवैध खनन पर भी पूर्व सरकार को घेरा और कहा कि रात के अंधेरे में खनन हो रहा है और बिजली की खुलकर चोरी हो रही है। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही। उन्होंने कहा कि अवैध खनन से मैटीरियल बाहर जा रहा है और इस पर रोक लगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि स्टोन क्रशर में बिजली चोरी हो रही है और कई स्थानों पर जमीन में अंदर जेनरेटर लगाए हैं और रात को खनन किया जाता है। इसमें किसकी मिलीभगत है, यह सामने आना चाहिए। उन्होंने आईपीएच विभाग की खस्ताहालत पर भी बात कही और कहा कि पूर्व सरकार पाइपें तक नहीं खरीद सकी। राकेश पठानिया ने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर की गई सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पर ध्यान दिया है और पहली कैबिनेट बैठक में बुजुर्गों की पेंशन के लिए आयु सीमा को घटाकर अहम कदम उठाया है और इसे 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष किया है। उन्होंने कहा कि शराब को लेकर पूर्व सरकार की नीति को भी निरस्त किया है। यह अच्छा कदम उठाया है।

- Advertisement -

Leave A Reply

%d bloggers like this: