- Advertisement -

प्रयोग सफलः अब फसलों को नहीं उजाड़ पाएंगे जंगली सूअर और नील गाय

0

- Advertisement -

ऊना। नील गाय और जंगली सूअर की समस्या से परेशान किसानों के लिए एक राहत भरा प्रयोग हुआ है। इस प्रयोग को ऊना के वनमंडलाधिकारी यशुदीप सिंह ने ऊना के गांव मदनपुर के एक किसान के खेत में किया है, जो सफल भी हुआ है। एक रस्सी पर पुराना मोबिल ऑयल व मिर्ची पाउडर लगाकर उस रस्सी से खेतों की फेंसिंग करने से नील गाय और जंगली सूअर को दूर भगाया जा सकता है इस प्रयोग के सफल परीक्षण के बाद डीएफओ ऊना इसे बंदरों पर भी प्रयोग करने वाले हैं, ताकि बंदरों से प्रभावित किसान भी इसका लाभ ले सकें।

वन विभाग ऊना के डीएफओ यशुदीप सिंह ने किसानों की सबसे बड़ी समस्या जंगली गाय और सूअर को खेतों से दूर रखने के लिए एक नया प्रयोग करके मिसाल कायम की है। नील गाय और जंगली सूअर की समस्या से परेशान गांव मदनपुर के पंचायत प्रधान ने डीएफओ ऊना से समस्या के समाधान की गुहार लगाई, जिस पर काम करते हुए डीएफओ यशुदीप सिंह ने केरल और अफ्रीकन देशों में हाथियों को खेतों से दूर रखने वाले प्रयोग को मदनपुर के किसान के खेतों में प्रयोग किया और यह प्रयोग सफल भी रहा है। इस विधि में सिर्फ एक जूट की रस्सी को खेतों के चारों और बांधकर उसके ऊपर पुराना मोबिल ऑयल व मिर्ची पाउडर लगाया गया, जिससे उठने वाली दुर्गंध से जंगली जानवर इस खेत के नजदीक नहीं आए। इस प्रयोग के सफल परीक्षण के बाद डीएफओ ऊना अब इसे बंदर प्रभावित क्षेत्रों में भी प्रयोग करने वाले हैं, ताकि वो किसान भी इसका लाभ उठा सकें। 

डीएफओ द्वारा किए प्रयोग के सफल होने से किसानों में भी ख़ासा उत्साह है। किसानों की माने तो जंगली जानवरों की समस्या से परेशान कई लोग तो खेतीबाड़ी करना छोड़ चुके हैं, लेकिन समस्या के समाधान के बाद किसान अब दोबारा से अपने खेतों में फसल बीज पाएंगे।

- Advertisement -

%d bloggers like this: