Kashmir में आतंक से निपटने के लिए अब रोबोट करेंगे सेना की मदद

नई दिल्ली। कश्मीर में आतंकियों और पत्थरबाजों से निपटने के लिए भारतीय जवानों को एक ऐसी मशीन मिलने वाली है, जिससे सेना की ताकत कई गुना बढ़ जाएगी। घाटी में आतंक से निपटने के लिए अब रोबोट सेना की मदद करेंगे। रिपोर्ट के अनुसार रक्षा मंत्रालय इसके लिए रोबोटिक वेपन को मैदान में उतारने की योजना बना रहा है। यह रोबोट पत्थरबाजों और आतंक के खिलाफ ऑपरेशन में सेना की मदद करेंगे साथ ही युद्ध और हमले की स्थिति में संवेदनशील जगहों पर सेना को हथियार और गोला बारूद भी पहुंचाएंगे सेना से जुड़े सूत्रों के अनुसार आर्मी ने 544 रोबोट की मांग रखी है। जिसे रक्षा मंत्रालय ने मान लिया है।

युद्ध और हमले के समय क्रिटिकल जगहों पर पहुंचाएंगे हथियार और गोला बारूद 

सेना से मिली जानकारी के अनुसार जम्मू कश्मीर में आतंक गावों और जंगलों से निकलकर अब शहरों में पहुंच चुका है, जिसकी वजह से जवानों को हाई टेक्नॉलाजी की जरूरत महसूस होती है। हल्के और मजबूत इन रोबोट्स में सर्विलांस कैमरा और ट्रांसमिशन सिस्टम की सुविधा होगी। ये अपने मेन सेंटर से 200 मीटर की रेंज में काम कर सकेंगे। आर्मी ने अपनी जरूरतों की लिस्ट में बताया है कि ये मशीनें ऐसी होनी चाहिए कि वे क्रिटिकल जगहों पर ग्रेनेड और हथियारों की डिलीवरी कर सकें। खास बात ये है कि ऐसे रोबोट्स देश में भी बनाए जा रहे हैं। आर्मी द्वारा ऐसे 544 रोबोट्स की जरूरत संबंधी प्रस्ताव को रक्षा मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है।

Ramdev पर लिखी किताब पर लगा बैन, बाबा ने खुद ही रोक लगाने के लिए लगाई थी याचिका

You might also like More from author

Comments