- Advertisement -

Check Post पर रिश्वत लेकर Crossing करवाता कर्मचारी रंगे हाथों पकड़ा

ADC एवं RTA ने टीम बनाकर जाल में फंसाया

0

- Advertisement -

Employee taking Bribe check post: करनाल। विभाग द्वारा लगाई गई ओवरलोडिड वाहन Check Post मंगलौरा पर बुधवार को ADC एवं RTA ने बिजली विभाग के कर्मचारी को रिश्वत (Bribe) लेते रंगे हाथों पकड़ा। RTA निशांत कुमार यादव ने आरोपी के पास से 39 हजार 160 रुपए भी बरामद किए। गौर हो कि परिवहन विभाग हरियाणा के आदेशानुसार आरटीए विभाग द्वारा जिला करनाल में 3 Check Post ब्याना, रम्बा तथा मंगलौरा लगाई गई है, जिन पर ओवरलोडिड वाहनों की चैकिंग के लिए 18 विभागों के कर्मचारियों की डयूटी लगाई गई है। इन कर्मचारियों की प्रत्येक माह दो शिफ्टों में ड्यूटी लगाई जाती है, इस दौरान ये कर्मचारी 12 घंटे Check Post पर तैनात रहकर ओवरलोडिड वाहनों की चैकिंग करते हैं, यदि कोई वाहन ओवरलोड पाया जाता है तो उस पर वजन के हिसाब से जुर्माना लगाया जाता है तथा चालान किया जाता है।

एडीसी ने बताया कि मंगलवार रात उन्हें सूचना मिली कि विभाग के कर्मचारी रामपाल ने रिश्वत (Bribe) लेकर एक ट्रक को Check Post से निकलवाया है। इस पर संज्ञान लेते हुए उन्होंने तुरंत एक टीम गठित की। टीम ने तुरंत हरकत में आते हुए पूरे योजनाबद्ध तरीके से निशान लगे 3 नोट एक नकली ट्रक चालक को दिए, जिनमें दो नोट 200-200 के व एक नोट 100 रुपए का शामिल था। ट्रक चालक ने ओवरलोडिड ट्रक छुड़वाने की एवज में मौके पर तैनात बिजली विभाग के कर्मचारी रामपाल को निशान लगे तीन नोट दिए। रामपाल ने पैसे लेते ही ट्रक को वहां से निकाल दिया। इस दौरान RTA निशांत यादव ने अपनी टीम के साथ कर्मचारी को मौके पर धर-दबोचा तथा कर्मचारी की तलाशी भी ली गई। तलाशी के दौरान उसकी जेब से निशान लगे 3 नोटों सहित 39 हजार 160 रुपए की नगद राशि बरामद की गई। आरोपी कर्मचारी को वहां से मधुबन थाना ले जाया गया, जहां उसने ड्यूटी पर पैसे लेकर ओवरलोड वाहनों को छोड़ऩे की बात को कबूला। RTA निशांत यादव ने बताया कि इस पूरे मामले की गहनता से जांच करवाई जा रही है। आरोपी के खिलाफ मधुबन थाने में मामला दर्ज करवा दिया गया है तथा मौके पर बरामद राशि जमा करवा दी गई है। इस घटना में आरोपी के साथ-साथ अन्य कोई ओर भी कर्मचारी दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

- Advertisement -

%d bloggers like this: