Advertisements

सुक्खू को बदलने पर आनंद शर्मा का गोलमोल जवाब

- Advertisement -

शिमला। राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता सांसद आनंद शर्मा ने हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू को बदलने को लेकर काफी बचकर मुंह खोला। उन्होंने पत्रकारों के सवाल पूछने पर कहा कि कौन क्या बोल रहा है, उस पर उन्हें कुछ नहीं कहना।

  • प्रदेश अध्यक्ष को बदलने का फैसला न्यूजपेपर या मीडिया में नहीं होगा। अध्यक्ष बदलना या नेतृत्व में बदलाव का विशेषाधिकार कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी का है।

m_id_428971_sharamaभारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस एक विचारधारा है। इसमें सब एक हैं। कुछ मुद्दों पर विचार भिन्न हो सकते हैं पर मकसद एक है। देश में कोई ऐसा संगठन नहीं, जिसमें सभी मुद्दों पर एकराय हो। पीसीसी अध्यक्ष और उनकी टीम सब अपने स्तर पर बेहतर करने का प्रयास कर रहे हैं। बिना गहराई में जाए किसी को कोई सर्टिफिकेट नहीं दे सकता। हर संगठन व काम में सुधार की गुंजाइश हमेशा बनी रहती है। सोमवार को कांग्रेस पार्टी का जरनल हाउस है, उसमें बाकि चीजें देखेंगे। पत्रकारों के दोबारा पूछने कि कांग्रेस संगठन की कार्यप्रणाली कैसी है, और अध्यक्ष को बदला जाना चाहिए या नहीं। इस पर उन्होंने कहा कि कोई और सवाल पूछो। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह सरकार ने प्रदेश में विभिन्न क्षेत्रों में काम किए हैं। पीएम नरेंद्र मोदी ने पूर्व सीएम डॉ वाईएस परमार, ठाकुर रामलाल और वीरभद्र सिंह का ये कहकर अपमान किया है कि हिमाचल में कोई विकास और काम नहीं हुए।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: