Advertisements

SIT ने 1634 बीघा जमीन में काटे 33740 सेब के पेड़, High Court में सौंपी रिपोर्ट

SIT submit report to high court shimla illegal possession in forest land shimla

- Advertisement -

शिमला। जिला के जुब्बल में वनभूमि पर काबिज 13 बड़े कब्जाधारियों को बेदखल करने के लिए बनाई SIT ने अपनी रिपोर्ट High Court के समक्ष दाखिल की। मामले पर सुनवाई के दौरान SIT की पूरी टीम कोर्ट में मौजूद रही। रिपोर्ट के मुताबिक 1634 बीघा वन भूमि से 33,740 सेब के पेड़ काट दिए हैं। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश संजय करोल व न्यायाधीश तरलोक सिंह चौहान की खंडपीठ ने सरकार को आदेश दिए कि वह अतिरिक्त शपथपत्र के माध्यम से कोर्ट को बताए कि और कितने बड़े-बड़े कब्जाधारी वनभूमि पर अभी भी काबिज हैं।

High Court ने बड़े कब्जाधारियों से अतिक्रमण हटाने में सरकार की नाकामी के कारण SIT का गठन किया था। SIT ने बताया कि उन्हें सौंपी गई जिम्मेदारी की अक्षरशः अनुपालना कर दी गई है। कोर्ट द्वारा गठित SIT में अतिरिक्त उपायुक्त शिमला देवा श्वेता वानिक, पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज डरोह की प्रिंसिपल आईपीएस सौम्या सांबशिवन व चीफ कंजरवेटर ऑफ फॉरेस्ट आलोक नागर शामिल थे, जबकि वनमंडलीय अधिकारी आईएफएस सीबी ताशीलदार को इस टीम का कॉर्डिनेटर बनाया गया था।

इन पर हुई कार्रवाई

SIT की रिपोर्ट के अनुसार जुब्बल उपमंडल के अंतर्गत आने वाले पहाड़ गांव के मोतीराम पुत्र पदम सिंह, बबलू पुत्र मंगत राम व लायक राम पुत्र पदम सिंह की 23 बीघा 13 बिस्वा भूमि से 535 पेड़, इसी गांव के अशोक कुमार पुत्र श्याम लाल, हेमंत ठाकुर पुत्र सोहन सिंह व ज्ञान सिंह पुत्र कर्म सिंह की 60 बीघा भूमि से 1856 पेड़, बर्थाटा गांव के चंपालाल पुत्र चुन्नी लाल, भूपेंदर सिंह पुत्र प्रताप सिंह, रमेश कुमार पुत्र माधु राम व मोहन लाल पुत्र भागमल की 180 बीघा 4 बिस्वा से 1871 पेड़, बर्थाटा व बधाल गांव के ज्ञानचंद पुत्र लच्छीराम, बलबीर धौलटा पुत्र मेघराम, शीशी राम जेटटा पुत्र चेतराम, जोगिंदर किनट्टा पुत्र रामसिंह व सुरेंद्र गुमटा पुत्र प्यारेलाल की 243 बीघा 18 बिस्वा भूमि से 4400 पेड़ काटे गए हैं।

बर्थाटा गांव के कुशालचंद पुत्र हीरा सिंह व संत राम पुत्र लज्जा राम की 164 बीघा 10 बिस्वा भूमि से 3387 पेड़, पहाड़ गांव के गोवर्धन पुत्र भगतराम व सुनील पुत्र शामा नंद की 136 बीघा 17 बिस्वा भूमि से 5185 पेड़, इसी गांव के जोगिंदर सिंह पुत्र मंगतराम, अजय सूद पुत्र मस्तराम, बेली राम पुत्र बुद्धि राम, सुनील कुमार पुत्र श्यामानंद की 81 बीघा 4 बिस्वा भूमि से 2544 पेड़, धार गांव के प्रकाश धौलटा पुत्र नाथूराम, बलवंत पुत्र बाला, मोहन सिंह पुत्र रेलूराम, नंद व महेंद्र सिंह पुत्र मोहन लाल, जीवन सिंह पुत्र भीका राम की 158 बीघा 15 बिस्वा भूमि से 1326 पेड़।

इसी गांव के नरेंद्र चौहान पुत्र लच्छीराम, प्रमोद पुत्र तुलसीदास, सोहन सिंह बाली पुत्र ठाकुर राम व प्रताप चौहान पुत्र परसराम की 194 बीघा 9 बिस्वा भूमि से 2161 पेड़ , पुराने जुब्बल और बेरली गांव के सुरेंद्र ऑक्टा, गंगाराम, रेलु व गोविंद पुत्र गीता राम की 155 बीघा 14 बिस्वा भूमि से 1884 पेड़, बलाई गांव के रायसिंह घूमटा, विपन लाल, उधम सिंह, संतराम घूमटा व रमेश की 213 बीघा 15 बिस्वा भूमि से 8310 पेड़, छाजपुर गांव के राजीव चौहान पुत्र जिया लाल की 21 बीघा 4 बिस्वा वन भूमि से 281 पेड़ों की प्रूनिंग की गई है। मामले पर सुनवाई 30 मई को निर्धारित की गई है।

 

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: