Advertisements

देवता अजय पाल का मंदिर राख, लाखों का नुकसान

0

- Advertisement -

कुल्लू। जिला मुख्यालय के साथ सटी पहाड़ी पर स्थित पीज में देवता अजय पाल का मंदिर जलकर राख हो गया है। मंदिर अति प्राचीन और भव्य नकाशीयुक्त था जो पूरी तरह से जलकर राख हो गया है। जानकारी के अनुसार इस मंदिर में पांच चांदी और 2 अष्ठधातु के प्राचीन मोहरे भी जलकर राख हो गए हैं। मंदिर के पुजारी प्रताप, कारदार मोहर सिंह और सदस्य धर्म सिंह ने बताया कि जब ग्रामीणों ने देखा तो तब तक आग मंदिर को पूरी तरह अपनी चपेट में ले चुकी थी,  जिसके चलते ग्रामीण आग पर काबू नहीं पा सके।

  • पांच चांदी और दो अष्ठधातु के मोहरे भी हुई स्वाह

ग्रामीणों ने इसकी सूचना दमकल विभाग को भी दी, लेकिन जब तक दमकल विभाग घटनास्थल पर जाने की तैयारी करता तब तक मंदिर पूरी तरह से जल चुका था। पुजारी ने बताया कि इस घटना में लाखों रुपये के नुक्सान होने का अनुमान लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह मंदिर ऐसा मंदिर था, जिसमें सिर्फ पुजारी ही प्रवेश करता था, लेकिन दूसरे किसी भी लोगों को इस मंदिर में जाने की अनुमति नहीं थी, जिसके चलते इस मंदिर में रखे गए मोहरे कितने पुराने थे इसका कोई अनुमान नहीं है। उधर, एसडीएम कुल्लू रोहित राठौर ने बताया कि प्रशासन की ओर से घटनास्थल के लिए एक टीम नुक्सान के आकलन के लिए भेज दी है, जो नुकसान का आकलन करके प्रशासन को सौंपेगी, उसके बाद राहत प्रदान की जाएगी।

Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: