Advertisements

जवाब दे हिसाब दे सांसद : Sukhu के निशाने पर PM सहित BJP सांसद

Sukhu attacks on pm modi: लोकपाल की तैनाती, भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सुनाई खरी-खोटी; अनुराग पर भी किया अटैक

- Advertisement -

Sukhu attacks on pm modi : कुटलैहड़। लोकपाल की तैनाती और भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू ने पीएम नरेंद्र मोदी को कठघरे में खड़ा कर दिया है। सुक्खू ने कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में पीएम दोहरा रवैया अपनाए हुए हैं। राफेल डील पर वह कुछ नहीं बोलते, इतनी महंगी डील में भ्रष्टाचार की बू उन्हें नहीं आई। इस पर वह खामोश क्यों हैं, जिस लोकपाल की नियुक्ति के मुद्दे को बीजेपी ने सत्ता में आने के लिए खूब भुनाया, चार साल के कार्यकाल में उस लोकपाल की नियुक्ति क्यों नहीं की। सुक्खू ‘हिसाब दे सांसद-जवाब दे सांसद’ अभियान के तीसरे चरण की शुरुआत के अवसर पर बोल रहे थे।
Sukhu attacks on pm modiरविवार को ऊना जिला के कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र से उन्होंने इसका शुभारंभ किया। क्षेत्र के डंगोली (बंगाणा) में सुक्खू ने लोगों को संबोधित करते हुए मोदी सहित चारों बीजेपी सांसदों से चार साल का हिसाब मांगा। हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के सांसद अनुराग ठाकुर भी उनके निशाने पर रहे। सुक्खू ने कहा कि इस अभियान के तहत वह पूरे प्रदेश में जनसभाएं करेंगे। उनका मकसद संगठन को मजबूत करने के साथ ही 2019 में चारों लोकसभा सीटें कांग्रेस पार्टी की झोली में डालना है। कार्यक्रम के दौरान सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने अखिल भारतीय असंगठित कामगार संगठन का सदस्यता अभियान भी लॉन्च किया। इस मौके पर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप कुमार, ऊना के विधायक सतपाल रायजादा, ऊना जिला अध्यक्ष वीरेंद्र धर्माणी इत्यादि उपस्थित रहे।

काला धन आया नहीं, सफेद धन लेकर नीरव, ललित और विजय माल्या भाग गए

सुक्खू ने डंगोली में कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी व चारों बीजेपी सांसद बताएं कि चार साल पहले हिमाचल की जनता से किए वादों का क्या हुआ। भ्रष्टाचार खत्म क्यों नहीं हो पाया, हर साल दो करोड़ रोजगार क्यों नहीं दिए गए, सेब पर आयात शुल्क तीन गुना बढ़ाने का वादा मोदी व सांसदों को क्यों याद नहीं है। भ्रष्टाचार उन्मूलन पर तो सरकार की पोल खुल चुकी है, चूंकि, काला धन आया नहीं और नीरव मोदी-ललित मोदी व विजय माल्या सफेद धन लेकर विदेश भाग गए। सुक्खू ने भ्रष्टाचार के मामले में पीएम मोदी की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर वह गंभीर होते तो सत्ता संभालते ही लोकपाल की नियुक्ति कर दी होती।

असलियत जनता के सामने, बदल रहा देश का माहौल

सुक्खू ने कहा कि चार साल के कार्यकाल के बाद मोदी सरकार की असलियत जनता के सामने आ चुकी है। देश में माहौल बदल रहा है। भाजपा शासित राज्यों में जहां भी उपचुनाव हुए, कांग्रेस जीती है। जनता अब बदलाव चाहती है, इसलिए कार्यकर्ताओं से उनका आह्वान है कि एकजुट होकर 2019 के कमर कस लें।
Advertisements

- Advertisement -

%d bloggers like this: