संविधान का 85वां संशोधन लागू न करने पर रोष

जोगिंद्रनगर। संविधान का 85वां संशोधन लागू न किए जाने के लिए अनुसूचित जाति व जनजाति कर्मचारी महासंघ में रोष है और यह मामला जल्द ही सरकार के सामने उठाए जाने का फैसला लिया गया है। हिमाचल प्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति कर्मचारी महासंघ की जोगिंद्रनगर उपमंडल इकाई की आवश्यक बैठक का आयोजन प्रधान पूर्ण चंद कौंडल की अध्यक्षता में किया गया,  जिसमें रोष जताया गया कि वर्तमान प्रदेश सरकार के 4 साल के कार्यकाल में 85वां संविधान संशोधन लागू करने का मसला एक बार भी प्रदेश कैबिनेट की बैठक में नहीं उठाया, जिससे इस वर्ग के कर्मचारी परेशान है। महासंघ के प्रधान पूर्ण चंद कौंडल ने बताया कि बैठक में प्रस्ताव पारित करके प्रदेश सरकार से अनुरोध किया गया कि 85वां संविधान संशोधन लागू किए जाने बारे सरकार गंभीरता से विचार करे। उन्होंने कहा कि समस्त कार्यकारिणी ने अपनी मांगों को जल्दी ही सरकार के सामने उठाने बारे एकमत होकर आवाज उठाई और कहा कि जिला व राज्य कार्यकारिणी का साथ देने व सरकार पर दबाव बनाने के लिए जल्दी ही प्रदेशस्तरीय सम्मेलन आयोजित किया जाएगा।

You might also like More from author

Comments