तैयारीः बदले की भावना से काम नहीं करेगा Mandi जिला कर्मचारी महासंघ

0

भ्यूली स्थित कार्यालय में प्रदेश महामंत्री का जोरदार वेलकम

मंडी। प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के साथ ही बीजेपी समर्थित कर्मचारी गुट पूरी तरह से सक्रिय हो गए हैं। प्रदेश सचिवालय स्थित कर्मचारी महासंघ के मुख्य कार्यालय पर अपना कार्य शुरू करने के बाद अब जिला मुख्यालयों पर भी कर्मचारी गुटों ने अपनी सक्रियता दिखानी शुरू कर दी है। सुरेंद्र ठाकुर गुट से समर्थित अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ ने मंडी जिला में भी अपना कार्यभार संभाल लिया है।

इस मौके पर अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के भ्यूली स्थित कार्यालय में सैकडों कर्मचारियों ने प्रदेश महामंत्री एनआर ठाकुर का जोरदार स्वागत किया। इस दौरान कर्मचारियों ने लड्डू बांटकर अपनी खुशी का इजहार किया। प्रदेश महामंत्री एनआर ठाकुर ने कहा कि महासंघ अपना समय कर्मचारी कल्याण के लिए लगाएगा तथा बदला-बदली की भावना से कोई कार्य नहीं होगा। सभी कर्मचारियों को साथ लेकर सरकार के समक्ष कर्मचारी मुद्दे प्रमुखता से रखे जाएंगे। उन्होंने कहा कि फिलहाल महासंघ दो वर्ष पहले बिंदुराज धर्मशाला-शिमला में हुए चुनावों के आधार पर ही अपना कार्य करेगा। अगले चुनावों की घोषणा मार्च माह में आयोजित राज्य स्तरीय बैठक में होगी। इससे पहले प्रदेश के कर्मचारी नेता सभी जिलों में प्रवास करके कर्मचारियों की समस्याओं को उनके साथ बैठक करके समझने का प्रयास करेंगे। 

यह भी पढ़ें….Jai Ram बोले, राजनीतिक आधार पर बने मामले लेंगे वापस, सरकारी भर्तियों में होगी पारदर्शिता

ताकतवर महासंघ बनाने की होगी कोशिश

एनआर ठाकुर ने कहा कि इस बार खंड स्तर से प्रदेश स्तर तक एक ताकतवर महासंघ बनाने की कोशिश होगी, जिन कर्मचारी नेताओं ने पांच वर्ष तक सरकार की प्रताड़ना झेली है, उन्हें अधिमान दिया जाएगा। साथ ही नए कर्मचारी नेताओं को भी महासंघ में शामिल किया जाएगा, ताकि नई लीडरशिप तैयार करके महासंघ को एक अच्छे मॉडल के रुप में उभारा जा सके। उन्होंने विभागीय संगठनों में भी बदलाव के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि पांच वर्ष में महासंघ की गरिमा में गिरावट आई है। कांग्रेस सरकार ने हमेशा ही दहशत व तानाशाही का माहौल बनाया।

कर्मचारियों को ट्रांसफर, टैरर, टर्मिनेशन के नाम से डराया-धमकाया गया। कोई भी कर्मचारी मुद्दा पांच साल में सुलझ नहीं पाया। इस दौरान एक संयुक्त सलाहकार समिति की बैठक आयोजित की गई वह भी बेनतीजा साबित हुई। महासंघ उत्पीडि़त कर्मचारियों की सूची शीघ्र ही सीएम को सौंपेगा तथा न्याय दिलाने का प्रयास करेगा। महासंघ को उम्मीद है कि बीजेपी सरकार सीएम जयराम ठाकुर के नेतृत्व में कर्मचारी व मजदूरों की समस्याओं को गंभीरता से लेगी। इस मौके पर प्रदेश वित्त सचिव चेतराम ठाकुर, वरिष्ठ उपाध्यक्ष मोहन सिंह चावला, जिला महामंत्री दिनेश शर्मा, उपाध्यक्ष कुलदीप ठाकुर, कोषाध्यक्ष मेघ सिंह, संगठन सचिव नरेंद्र ठाकुर, मुख्य सलाहकार सूरज सिंह, संयुक्त सचिव कर्मचंद और प्रेस सचिव उमेश कुमार ने भी अपने विचार रखे। बैठक के बाद कर्मचारी नेता उपायुक्त मंडी ऋग्वेद ठाकुर से भी मिले तथा उन्हें जिला मंडी का कार्यभार संभालने के लिए बधाई दी।

You might also like More from author

Leave A Reply