पटरी पर दौड़ा बेकाबू रेल Engine, चालक ने कूदकर बचाई जान

0
मोहिंदर भारती/रेवाड़ी। ऐतिहासिक लोको हेरिटेज में रिहर्सल के लिए निकाला जा रहा 65 साल पुराना इंजन बेकाबू हो गया और गेट को तोड़ता हुआ पटरी पर दौड़ पड़ा। इंजन को दौड़ता देख ड्राइवर के हाथ-पांव फूल गए और उसने कूदकर अपनी जान बचाई। हालांकि लोको हेरिटेज से करीब दो किलोमीटर दूर इंजन रुक गया और बड़ा हादसा होने से टल गया। बता दें कि इस इंजन का उपयोग कई फिल्मों में भी किया जा चुका है। गदर एक प्रेम कथा, सुल्तान व द गांधी माई फादर जैसी बालीवुड की करीब 20 बड़ी हिट फिल्मों में इसे उपयोग में लाया जा चुका है।

रिहर्सल के दौरान बेकाबू हुआ इंजन

आज दिल्ली रेलवे डिवीजन के अधिकारियों को इसके निरीक्षण के लिए रेवाड़ी आना था, जिसके लिए लोको स्टाफ द्वारा इंजन की रिहर्सल की जा रही थी, लेकिन जैसे ही इंजन को रिहर्सल के लिए निकाला गया तो अचानक वह बेकाबू हो गया और हेरिटेज का गेट तोड़ता हुआ पटरी पर दौड़ पड़ा। इंजन करीब 2 किलोमीटर दौड़ता हुआ कालूवास गांव के समीप जा पहुंचा और असंतुलित होकर पटरी से उतर गया। बताया जा रहा है कि यह सब ड्राइवर की लापरवाही की वजह से हुआ। बहरहाल अब देखना होगा कि इस मामले में रेल विभाग दोषी कर्मचारियों के खिलाफ क्या कार्रवाई करता है।

यह भी पढ़ें :  OMG: बिन Driver 13 किमी दौड़ा engine, स्टेशन मास्टर- ड्राइवर ने Bike से पीछा कर रोका

You might also like More from author

Leave A Reply